टिकट बांटने पर कांग्रेस का मुस्लिम विरोधी चेहरा बेनकाब

टिकट बांटने पर कांग्रेस का मुस्लिम विरोधी चेहरा बेनकाब

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) की केंद्रीय चुनाव समिति ने बिहार चुनाव के प्रथम एवं दुसरे चरण के लिए 42 उम्मीदवारों के नामों को स्वीकृति दे दी है. लेकिन मुस्लिम समुदाय के प्रत्याशियों को टिकट नहीं देने पर पार्टी के नेता ही सवाल उठा रहे है.

कांग्रेस पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति द्वारा आधिकारिक स्वीकृति के 24 घंटे के भीतर ही पार्टी सवालों के घेरे में आ गयी है. कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे अनिल कुमार शर्मा (Anil Kumar Sharma) ने आरोप लगाया कि पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति द्वारा स्वीकृति के बावजूद बिहार कांग्रेस ने अभी तक उम्मीदवारों के नामों की घोषणा नहीं की है.

सूत्रों की और से जानकारी मिली है कि आधिकारिक सूचि में एक भी मुस्लिम प्रत्याशी को टिकट नहीं दिया गया है. बिहार में कांग्रेस पार्टी के एकमात्र सांसद एवं राष्ट्रीय सचिव डॉ0 मोहम्मद जावेद ने औरंगाबाद, भभुआ, अरवल, जहानाबाद,शेखपुरा, नवादा, नालंदा, बक्सर, भोजपुर, रोहतास और पटना जिलों से एक भी मुस्लिम उमीदवार नहीं होने पर अपनी नाराज़गी जताई है. उन्होंने अपनी शिकायत से पार्टी आलाकमान को अवगत भी करा चुके है.

राजद की आधिकारिक लिस्ट : महिलाओं की बम्पर हिस्सेदारी, अगड़ों की भी भागीदारी

कांग्रेस के कद्दावर नेता एवं बिहार प्रदेश कांग्रेस समिति के पूर्व अध्यक्ष अनिल कुमार शर्मा ने भी इसपर नाराज़गी जताई है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि “केन्द्रीय चुनाव समिति से उम्मीदवारों का नाम स्वीकृत हो जाने के बावजूद प्रदेश नेतृत्व की सलाह पर उसे प्रकाशित नहीं करना नामों की अनुशंसा में हुए घोर पक्षपात और धांधली की शंका को मजबूती प्रदान कर रहा है”।

बता दें कि महागठबंधन में सीट बटवारे के तहत कांग्रेस पार्टी को कुल 70 सीटें, राजद को 144 और वाम दलों को कुल 29 सीटें मिली है. बिहार में प्रथम चरण का मतदान 28 अक्टूबर को, दूसरा चरण 3 नवंबर और आखरी चरण की वोटिंग 10 नवंबर को होगी। जबकि चुनाव आयोग द्वारा नतीजों का ऐलान 10 नवंबर को किया जायेगा।

जदयू उम्मीदवारों का ऐलान, जातीय समीकरण एवं महिला प्रतिनिधित्व पर फोकस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*