महिला यौन उत्‍पीड़न के दोषियों के खिलाफ हो कार्रवाई

कांग्रेस ने देश, विशेषकर उत्तरप्रदेश में महिलाओं और बच्चों के प्रति बढ़ते यौन अपराधों के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि ऐसे अपराधों के लिए राजनीतिक जिम्मेदारी तय की जानी चाहिए और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की होनी चाहिए।

कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने यहां पार्टी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारतीय जनता पार्टी के शासन के दौरान महिलाओं और बच्चों के खिलाफ यौन अपराधों में बहुत वृद्धि हुई है। उन्होेंने उन्नाव दुष्कर्म कांड, चिन्मयानंद मामला और स्कूलों में बच्चों के साथ दुर्व्यवहार का मामलों को उल्लेख करते हुए उत्तरप्रदेश में यौन अपराधों के आंकड़े भी जारी किये।

सुश्री नायक ने आराेप लगाया कि उन्नाव दुष्कर्म कांड के आरोपियों को भाजपा के नेताओं का संरक्षण प्राप्त है और पार्टी के सांसद आरोपी से मिलने जेल में जाते हैं और सांत्वना देते हैं। चिन्मयानंद मामले में पीड़िता से पूछताछ की जा रही है जबकि आरोपी से कोई पूछताछ नहीं की गयी है। इस मामले की पीड़िता के पिता काे पुलिस, प्रशासन और भाजपा के नेता धमका रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा शासन में यौन अपराधों के आरोपियों को राजनीतिक संरक्षण मिल रहा है इसलिए ऐसे अपराधों के लिए राजनीतिक जिम्मेदारी भी तय की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि चिन्मयानंद मामले की पीड़िता और उसके परिजनों को सुरक्षा दी जानी चाहिए।

प्रेस कांफ्रेंस में पीड़िता का एक वीडियो भी दिखाया गया जिसमें वह अपनी और अपने परिजनों की जान काे खतरा बता रही है और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रही है। पीड़िता का कहना है कि उसके मामले की प्राथमिकी उत्तरप्रदेश के शहाजहांपुर में दर्ज की जानी चाहिए और उस पर कार्रवाई होनी चाहिए। गौरतलब है कि स्वामी चिन्मयानंद भाजपा के वरिष्ठ नेता है और केंद्र में मंत्री रह चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*