दल-बदल करते ही हजारों ने घर घेरा, जनता के डर से वापस कांग्रेस में

दल-बदल करते ही हजारों ने घर घेरा, जनता के डर से वापस कांग्रेस में

दिल्ली की जनता ने नया इतिहास रचा। पार्षद के दल-बदल करते ही हाजारों लोगों ने रात में ही घर घेरा। जनता के डर से पार्षद फिर कांग्रेस में वापस। माफी मांगी।

दिल्ली MCD चुनाव में कांग्रेस के दिल्ली प्रदेश के उपाध्यक्ष अली मेहदी पार्षद का चुनाव जीते और एक दिन बाद ही शुक्रवार को कांग्रेस छोड़ कर आप में शामिल हो गए। दल-बदल की खबर जंगल की आग की तरह तुर फैल गई। देखते-देखते हजारों लोग सड़क पर आ गए। रात होने के बावजूद हजारों की भीड़ ने दलबदलू पार्षद का घर घेर लिया। पुतला फूंका। जनता ने दलबदलू के होश ठिकाने ला दिये। इसके बाद पार्षद अली मेहदी फिर से कांग्रेस में आ गए। उन्होंने वीडियो जारी करके राहुल गांधी से माफी मांगी और कहा कि गलती हो गई। ये है जनता की ताकत, देखिए वीडियो-

दलबदल करने वाले अली ने कहा कि उन्हें कुछ लोगों ने बहका दिया था। सोशल मीडिया पर लोग कह रहे हैं कि जिस कांग्रेस ने आपको दिल्ली का उपाध्यक्ष बनाया, उसी से आपने गद्दारी कर दी। आपक बहकाए नहीं गए, बल्कि काली कमाई के लिए आप में गए थे। मालूम हो कि सोशल मीडिया में आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल के हवाले से कई लोग कह रहे थे कि अगर अपने क्षेत्र का विकास तेजी से करना चाहते हैं, तो आप में शामिल हो जाइए। फंड की कमी नहीं होगी।

ट्विटर यूजर पाशा दानिश ने कहा-मुस्तफाबाद की जनता सड़कों पर निकली इन लोगों के घरों का घेराव किया तब इनको डर लगा और वापस कांग्रेस में आ गए @alimehdi_inc इतने नादान नहीं हो जो बहकावे में आ गए कांग्रेस ने तुम पर भरोसा करके दिल्ली कांग्रेस का उपाध्यक्ष बनाया था और तुम उसी भरोसे से गद्दारी कर निकले। दानिश अलीम ने कहा-मुस्ताफबाद कि आवाम ने अली मेहंदी का सड़कों पे उतरकर विरोध किया और नेता जी से माफी मंगवा दी …ये आवाम कि ताकत है ….।

कांग्रेस सांसद इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा कि रात के दो बज रहे हैं और कॉंग्रेस के सिंबल पर मुस्तफ़ाबाद से जीते पार्षद फिर से वापस कॉंग्रेस में लौट आये, धोखा देकर उन्हें आम आदमी पार्टी ज्वाइन करायी गई थी महज़ चंद घंटे में उन्होंने अपनी भूल सुधारी और अभी फिर से कॉंग्रेस का हिस्सा बन गये।

रोजी-रोटी के असली मुद्दे सामने आए, BJP का अवसान शुरू : RJD

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*