झारखंड में 250 नये सीएनजी स्‍टेशन खोले जाएंगे

केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस तथा इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने आज कहा कि झारखंड के 13 जिलों में करीब 250 नये संपीडित प्राकृतिक गैस (सीएनजी) स्टेशन शीघ्र बनाये जाएंगे।

श्री प्रधान ने रांची में मुख्यमंत्री रघुवर दास एवं केंद्रीय जनजातीय कार्यमंत्री अर्जुन मुंडा की उपस्थिति में रांची शहरी गैस वितरण परियोजना की शुभारंभ करने के बाद आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुये कहा कि इस परियोजना के तहत मधुबन बिहार, ओरमांझी और डोरंडा चौक स्थित सीएनजी स्टेशनों तथा मकान कॉलोनी श्यामली में पाइप्ड नैचुरल गैस (पीएनजी) आपूर्ति का उद्घाटन किया गया है।

उन्होंने कहा कि रांची की महिलाओं को पाइप लाइन से गैस पहुंचाने की सौगात राज्य सरकार ने दी है। रांची के 3000 मकानों में आज से गैस पाइपलाइन के माध्यम से रसोई गैस पहुंचना प्रारंभ हुआ है। आने वाले दिनों में रांची के डेढ़ लाख परिवारों तक पाइपलाइन के माध्यम से रसोई गैस पहुंचाई जाएगी।

 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि झारखंड के 13 जिलों में लगभग 250 नये सीएनजी स्टेशन बनाये जाएंगे। पाइप लाइन के जरिए रसोई गैस शहर से गांव की ओर ले जाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बहुत जल्द ही सिंदरी कारखाना भी खुल रहा है। बोकारो स्टील सिटी और जमशेदपुर के संयंत्र में भी पाइपलाइन के माध्यम से ईंधन पहुंचाने का कार्य केंद्र एवं राज्य सरकार करेगी। उन्होंने कहा कि चतरा में भी इस्पात कारखाना खुलेगा और यहां भी पाइपलाइन के माध्यम से ही ईंधन पहुंचाया जाएगा।

श्री प्रधान ने कहा कि इस परियोजना के शुरू होने से यहां की महिलाओं के जीवन में बहुत बड़ा बदलाव आएगा।

 

उन्होंने कहा कि शहर में चलने वाले वाहन भी अब सीएनजी से चलेंगे। शहर के ऑटोरिक्शा चालक सीएनजी से वाहन चलाएंगे तो उन्हें प्रत्येक महीने तीन से पांच हजार रुपये का अतिरिक्त लाभ होगा। इससे शहर के ऑटोरिक्शा चालक आर्थिक रूप से समृद्ध होंगे और परिवार चलाने में सक्षम भी होंगे। ऑटोरिक्शा चालकों के बच्चों की पढ़ाई में यह अतिरिक्त बचत की राशि उन्हें सुविधा देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*