डबल इंजन फंसा, यूपी में भी नीति आयोग की रिपोर्ट मुद्दा बनी

डबल इंजन फंसा, यूपी में भी नीति आयोग की रिपोर्ट मुद्दा बनी

डबल इंजन की सरकार बिहार ही नहीं, यूपी में भी फंस गई। दिल्ली का इंजन गरीब बता रहा, यूपी-बिहार के इंजन मानने से इंकार कर रहे। तेजस्वी के बाद अखिलेश ने घेरा।

डबल इंजन का पूरा सिद्धांत फंस गया है। दिल्ली का इंजन बिहार और यूपी को गरीब बता रहा, जबकि इन दोनों प्रदेशों के इंजन भाजपा और उनके सहयोगियों के ही हैं। नीति आयोग की रिपोर्ट ने बिहार को देश में सबसे गरीब प्रदेश माना है। यूपी भी देश के सर्वाधिक गरीब राज्यों में एक है। बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव 16 साल से लगातार मुख्यमंत्री रहे नीतीश कुमार से सवाल पूछ रहे हैं, पर मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि उन्होंने रिपोर्ट देखी नहीं है।

मुख्यमंत्री का यह कहना की उन्होंने नीति आयोग की रिपोर्ट अब तक देखी ही नहीं, यह बिहार के लिए चिंता का विषय है। अगर मुख्यमंत्री नीति आयोग की रिपोर्ट ही नहीं पढ़ेंगे, तो क्या करेंगे? आज हरदोई के संडीला में महाराज सल्हीय सिंह अर्कवंशी जी के 15वें मूर्ति स्थापना दिवस पर आयोजित सभा को संबोदित करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने नीति आयोग की रिपोर्ट की चर्चा करते हुए योगी सरकार पर जमकर हमला किया। अखिलेश ने रोजगार, खेती, अस्पतालों की दुर्दशा के लिए भाजपा सरकार को जिम्मेदार बताया।

अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री सांढ़ बोल सकते हैं, लेकिन लैपटॉप नहीं बोलते। उन्होंने प्रयागराज में दलित किशोरी के साथ गैंगरेप की घटना पर भी सरकार को घेरा।

इधर, तेजस्वी यादव ने कहा- हमेशा भूतकाल में डूबे रहने वाले मुख्यमंत्री को भविष्य, वर्तमान एवं अपने सुशासनी भूत के 16 वर्षों का आकलन अवश्य करना चाहिए कि उन्होंने बिहार को सबसे फिसड्डी राज्य क्यों बनाया है? जो अपनी गलती ही स्वीकार नहीं करेगा वह उन ख़ामियों को दूर कैसे करेगा? देश-विदेश के प्रतिष्ठित मूल्यांकन व मानक संस्थानों जैसे नीति आयोग,NCRB,NHRM, NSSO,CPCB,WHO ने बिहार के शिक्षा,स्वास्थ्य,कानून व्यवस्था,गरीबी, बेरोजगारी,पलायन,प्रदूषण इत्यादि से संबंधित Scientifically well researched रिपोर्ट्स पेश की है लेकिन बकौल CM नीतीश जी सब रिपोर्ट्स झूठी है।

यूपी में दलित के साथ गैंगरेप दिल दहलानेवाला, योगी-मोदी चुप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*