रॉकेट वैज्ञानिक डॉ.के सिवन को जानिये जो बनाये गये हैं ISRO के चेयरमैन

अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में देश के विख्यात इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गनाइजेशन( इसरो) को नया चेयरमैन डॉ के सिवन के रूप में मिला है. सिवन इसरो के 9वें चेयरमैन होंगे. इससे पहले एस किरण कुमार चेयरमैन हैं जो 14 जनवरी को रिटायर कर रहे हैं.

कौन हैं के सिवन

1980 में आईआईटी मद्रास से एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में स्नातक  और 1982 में आईआईएससी बेंगलुरु से एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर  करने के बाद सिवन ने  2006 में आईआईटी बॉम्बे से एयरोस्पेस इंजीनियरिंग से पीएचडी की उपाधि ली थी.

सिवन  1982 में इसरो से जुड़े और पीएसएलवी परियोजना पर काम किया। एंड टू एंड मिशन प्लानिंग, मिशन डिजाइन, मिशन इंटीग्रेशन एंड एनालिसिस में भी अहम योगदान दिया.  वह तमिलनाडु के तटीय जिले के एक छोटे से गांव के रहने वाले हैं.

 

मंत्रिमंडल की नियुक्ति संबंधी समिति ने बुधवार को उनकी नियुक्ति को मंजूरी दी। कार्मिक मंत्रालय की ओर से जारी एक आदेश के मुताबिक मंत्रिमंडल की नियुक्ति संबंधी समिति ने अंतरिक्ष विभाग में सचिव पद और अंतरिक्ष आयोग के अध्यक्ष पद पर उनकी नियुक्ति को मंजूरी दी.

सिवन का कार्यकाल तीन वर्ष का होगा। सिवन वर्तमान में विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र में निदेशक हैं.

 

अपनी नियुक्ति पर  सिवन ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि  इस खबर को सुनने के बाद भी शरीर में कंपन हो रही है। मैं एक बात जानता हूं, इस पद पर विक्रम साराभाई, सतीश धवन,माधवन नायर जैसे महान लोग रहे। इसलिए यह बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। 12 जनवरी की लांचिंग सहित कई मिशन कतार में है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*