एलिट डिबेट के तहत छात्रों ने विज्ञान के सामाजिक सरोकारों पर रखी अपनी बात

इंजीनियरिंग व मेडिकल की कोचिंग के लिए चर्चित एलिट इंस्टिच्युट ने एलिट डिबेट का आयोजन किया. इसके तहत छात्र-छात्राओं ने अनेक विषयों पर अपने विचार रखे.

संस्थान के निदेश अमरदीप झा गौतम

कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए संस्थान के निदेशक व फिजिक्स के शिक्षक अमरदीप झा गौतम ने इस डिबेट के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि छात्रों में आत्मविश्वास, एकाग्रता व डिसिप्लिन जैसे गुणों को निखारने के लिए ऐसा आयोजन जरूरी है.

 

उन्होंने कहा कि11वी-12वी के स्टुडेंट्स में आत्मविश्वास पैदा करना और उन्हें सार्वजनिक मंच उपलब्ध करा कर हम उनकी योग्यता को निखारना चाहते हैं.

इस डिबेट में छात्र-छात्राओं ने थ्युरी ऑफ इमाजिनेशन, सेंसेशन इन प्लांट, पावर ऑफ मांइड व एक्जिसटेंस ऑफ युनिवर्स जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर अपनी-अपनी बातें रखीं.

संस्थान के निदेशक अमरदीप झा गौतम ने कहा कि विज्ञान पृष्ठभूमि के स्टुडेंट्स के लिए समाज के आम सरोकार से जुड़े विषयों के वैज्ञानिक पहलू पर बच्चों को बोलने का अवसर देने की कोशिश की गयी थी.

ध्यानमग्न स्टुडेंट्स

 

इस अवसर पर सर जेसी बोस के प्रतिपादित सिद्धांत- सेसेशन इन प्लांट और एपीजे अब्दुल कलाम के  पावर ऑफ मांइड व स्टिफेन हॉकिंग के  थ्युरी ऑफ इमाजिनेशन जैसे विषयों पर बच्चों ने अपनी बात रखी.

करीब दो सौ छात्रों की मौजूदगी में दर्जनों छात्रों ने अपने विचार खुल कर रखे. इनमें से छह चयनित छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया गया.

इस कार्यक्रम के पश्चात एलिट संस्थान द्वारा  छात्र- छात्राओं की समस्याओं और उसके समाधान के लिये एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसके तहत छात्रों में अध्ययन के दौरान उत्पन्न होने वाली मनोवैज्ञानिक समस्याओं के निदान की कोशिश की गयी.

 

इन समस्याओ में प्रमुख रूप से पढ़ाई के दौरान  एकाग्रता की कमी, परीक्षा के दौरान आत्मविश्वास की कमी, याददाश्त की कमी, व्यर्थ-उलझनों में उलझ कर मुख्य मार्ग से हटने के कारणों और उससे निकलने के तरीकों पर बारीकी से प्रकाश डाला गया.

इस आयोजन को आकर्षक बनाने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुआ.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*