EXCLUSIVE-पटेल की मूर्ति के खर्च पर सवाल उठाने वाली खबर को जागरण ने वेबसाइट से हटाया

जागरण डॉट कॉम ने अपनी वह खबर वेबसाइट से हटा ली है जिसमें बताया गया था कि स्टैच्यु ऑफ युनिटी पर खर्च हुई रकम से देश को मिल सकते थे दो नये IIT, पांच नये IIMs और छह नये ISRO केंद्र.

दैनिक जागरण की वेबसाइट पर यह खबर छपी थी. जिसे सोशल मीडिया पर लोग अंधाधुंध शेयर करने लगे थे. इसी बीच जब इस लिंक को क्लिक किया गया तो जागरण की वेबसाइट से एक नोटिफिकेशन आया कि आप जिस पेज को खोल रहे हैं वह उपलब्ध नहीं है.

 

गौरतलब है कि आज ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात की नर्मदा नदी पर 3500 करोड़ रुपये की लागत वाली सरदार पटेल की मूर्ति का अनावरण किया है. यह दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति है जिसकी ऊंचाई 182 मीटर है. इस मूर्ति में पटेल के कोट के बटन की साइज 8 फुट की है. जबकि इस मूर्ति की ऊंचाई किसी 60 मंजिला भवन से भी ज्यादा है.

जागरण की वेबसाइट की इस खबर में अनालिसिस कर के यह ब

ताने का प्रयास किया गया था कि जितनी रकम इस मूर्ति के निर्माण पर खर्च की गयी थी उससे 2 IIT, 5 AIMS 6 ISRO जैसे संस्थान बनाये जा सकते थे. जिससे छात्र स्टडी करके देश का नाम रौशन कर सकते थे.

जब यह खबर हटाई गयी तो कुछ लोगों ने इस पर प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी. कई लोगों ने संदेह व्यक्त किया है कि भारतीय जनता पार्टी के दबाव में यह खबर हटाई गयी.

जागरण अखबार और उसकी वेबसाइट पर आरोप लगते रहे हैं कि वह भाजपा और आरएसएस का समर्थक मीडिया हाउस है. मालूम हो कि जागरण के संस्थापक एडिटर भाजपा के कोटे से राज्यसभा का मेम्बर भी बनाया जा चुका है.

ध्यान रहे कि स्टैच्यु ऑफ युनिटी पर विशाल खर्च किये जाने पर सोशल मीडिया में जबरदस्त विरोध हो रहा है. लोग सवाल उठा रहे हैं कि जितनी रकम इस मूर्ति पर खर्च की गयी उससे हजारों लोगों को स्थाई रोजगार से जोड़ा जा सकता था. इसी क्रम में जागरण ने यह खबर अपनी वेबसाइट पर छापी जिसमें अनालिसिस करके बताया गया था कि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*