फर्जी रामभक्तों को दिया जवाब, मस्जिद की रक्षा में मानव श्रृंखला

फर्जी रामभक्तों को दिया जवाब, मस्जिद की रक्षा में मानव श्रृंखला

जहां मुजफ्फरपुर में उन्मादी तत्वों ने मस्जिद पर भगवा झंडा फहरा दिया। वहीं कटिहार ने दिया सद्भाव और भाईचारे का संदेश। फर्जी रामभक्तों को दिया जवाब।

फर्जी रामभक्तों को पहचानिए। मुजफ्फरपुर में इन नफरती तत्वों ने राम की जय का नारा लगाते हुए मस्जिद पर भगवा फहराया। उन्होंने राम को भी बदनाम किया। नफरत फैलाने के लिए भगवान के नाम को माध्यम बनाया। वहीं कटिहार में सच्चे रामभक्तों ने मस्जिद की रक्षा के लिए ह्यूमन चेन बनाई और तबतक खड़े रहे, जबतक यह सुनिश्चित नहीं हो गया कि फर्जी और उन्मादी तत्वों से मस्जिद को कोई खतरा नहीं है। अगर इन सच्चे रामभक्तों ने सद्भाव की दीवार खड़ी न की होती, तो यहां भी फर्जी रामभक्त आकर राम को बदनाम करते।

आज राजद ने राम के नाम पर नफरत फैलानेवालों को घेरा। कहा-देश के हर चौक-चौराहे पर लाखों-करोड़ मंदिर है। हिंदुओं में 33 करोड़ देवी-देवता हैं, फिर भी संघ प्रशिक्षित और भाजपा भ्रमित फर्ज़ी हिंदुओं को अपना राम ढूंढ़ने मस्जिद जाना पड़ता है। अरे ढोंगियों, फिर मंदिर-मंदिर क्यों चिल्लाते हो, जब रामनवमी पर भी राम के लिए तुम्हें ‘मस्जिद’ ही जाना है?

कटिहार आज देशभर में चर्चा का विषय बना है-अच्छी वजहों से। पत्रकार पुनीत कुमार सिंह ने ट्वीट किया-बिहार के कटिहार की तस्वीर बतायी जा रही है… रामनवमी के जुलूस के दौरान लोगों ने मस्जिद के सामने human chain बना के, ये दिखाया कि कोई मस्जिद की तरफ़ बदतमीजी ना करे हम उसकी सुरक्षा कर रहे हैं… जब नफ़रत वालों को अगर सोशल मीडिया पर जगह मिलती है तो ऐसे लोगों को भी मिलनी चाहिए।

लेखक अशोक कुमार पांडेय ने लिखा-महात्मा गांधी का मानना था कि शांति तभी रह सकती है जब बहुसंख्यक अल्पसंख्यकों की रक्षा करें। नोआखली में जब हिंदुओं पर मुस्लिम लीग ने अत्याचार किया था तो गांधी गाँव-गाँव गए थे यही संदेश दिया था। आज भी इसी की ज़रूरत है।

अजान के जवाब में हनुमान चालीसा, जकात का कैसे देंगे जवाब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*