दंगा की साजिश नाकाम, मंदिर में मांस फेकने वाले निकले हिंदू

दंगा की साजिश नाकाम, मंदिर में मांस फेकने वाले निकले हिंदू

दंगा की साजिश नाकाम, मंदिर में मांस फेकने वाले निकले हिंदू

यूपी के मुजफ्फरनगर में किसान आंदोलन से बढ़ी हिंदू-मुस्लिम एकता को दंगा भड़का कर तोड़ने की कोशिश नाकाम हो गयी है. शिव मंदिर में मांस फेकने वाले हिंदू थे.

इन चारों आरोपियों ने भरी पंचायत में अपनी करतूत को स्वीकार कर लिया और अपनी गलती मान ली.

truestory.co.in में बुढ़ाना से गौरव पंवार की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि शिव मंदिर में मांस फेकने के मामले में दो युवकों और उनकी पत्नियों को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार किये गये चारों व्यक्तियों ने अपनी गलती स्वीकार कर ली है. उनके नाम राकेश पुत्र गंगा राम, राजेश पुत्र गंगा राम और राजेश की पत्नी कुसुम व राकेश की पत्नी अनारकली हैं. ये चारों जौला गांव, थाना बुढ़ाना के रहने वाले हैं.

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुधांशु वाजपेयी ने इस खबर को ट्वीट किया है.

तेजस्वी से मिलने पहुंचे चिराग, लालू की रणनीति होगी कामयाब!

truestory.co.in वेबसाइट पर एक विडियो भी है जिसमें शुभराज पाल ठाकुर नाम के व्यक्ति बता रहे हैं कि उक्त व्यक्तियों ने शिव मंदिर में मांस चढ़ाया. वेबसाइट को इंस्पेक्टर संजीव कुमान ने बताया कि जौला स्थित शिव मंदिर में कुछ लोगों ने मांस पेकनेक की बात सामने आय़ी थी. इस मामले में इस मामेल में राकेश, राजेश और उन दोनों की पत्नियों पर मुकदमा दर्ज किया गया था. जांच में पूरे मामले का खुलासा हुआ. यह साजिश माहौल को खराब करने के लिए रची गयी थी.

करनाल : इंटरनेट बंद, जगह-जगह बैरिकेड, फिर भी जुटे किसान

इस मामले में गांव में काफी तनाव व्याप्त था. बाद में जब जांच में सारी सच्चाई सामने आयी तो ग्रामीणों ने आरोपियों को माफ करने से इनकार कर दिया. इसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

याद दिला दें कि पिछले ही दिनों मुजफ्फरनगर में किसानों ने महापंचायत आयोजित किया था. इसमें 20 लाख लोगों ने एक साथ हर-हर महादेव और अल्लाहु अकबर के नारे लगा कर लोगों से किसी भी साजिश को नाकाम करने की अपील की थी.

मुजफ्फरनगर साम्प्रदायिक तौर पर काफी संवेदनशील रहा है. 2013 में यहा भीषण दंगा हुआ था जिसमें सैकड़ो लोग मारे गये थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*