जयंती पर गाँधी एवं शास्त्री किये गए याद

जयंती पर गाँधी एवं शास्त्री किये गए याद

संजय कुमार एवं महमूद आलम

आज श्री गांधी पुस्तकालय पताही के सचिव इसराइल मंसूरी द्वारा गांधी पुस्तकालय सभागार में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी मौके पर डॉक्टर नगेंद्र ठाकुर पूर्व मुखिया मोतिउर रहमान सुरेश रजक मकसूद आलम उर्फ फुल फुल बाबू मो आलमगीर अखिलेश ठाकुर सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

जिला खादी ग्रामद्योग में गांधी जयंती के मौके पर सर्वधर्म प्रार्थना सभा का आयोजन. 

नालंदा, बिहार:- जिला खादी ग्रामद्योग के द्वारा महात्मा गांधी की 151वीं जयंती बिहारशरीफ कागजी मोहल्ला स्तिथ प्रधान कार्यालय में मनाया गया. इस अवसर पर सर्वधर्म प्रार्थना रामायण पाठ के द्वारा गांधी जी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई. खादी ग्राम उधोग के जिला अध्यक्ष मनोज पांडे ने कहा कि जयंती के मौके पर बापू से यही प्रार्थना की गई है कि वैश्विक महामारी कोरोना से जो आर्थिक क्षति हुई है उससे समस्त लोक जनों को सहनशक्ति और कार्य करने की प्रेरणा दें.

बिहार चुनाव : महागठबंधन ने मार ली बाज़ी, एनडीए में अभी भी दंगल

खादी ग्राम उद्योग के जिला मंत्री विनय कुमार चौधरी ने कहा की बापू के बताए रास्ते पर हम सब चलते हुए आगे बढ़े. जो आजादी उन्होंने दिलाई थी उसे आगे बढ़ाते हुए इस वैश्विक महामारी में जो कार्यकर्ता और बुनकर लगे हुए हैं उन्हें कोरोना काल में धैर्य का परिचय देते हुए आगे बढ़ते रहना है. उन्होंने कहा कि गांधी जयंती के अवसर पर खादी के सभी कपड़ों पर 10 पर्सेंट की छूट दी जा रही है, खादी द्वारा बनाए गए मां का लोग अधिक से अधिक उपयोग करें ताकि बुनकर और इससे जुड़े लोगों की जीविका चलाई जा सके इस मौके पर अवध बिहारी शर्मा, राजकुमार, कुशाग्र, पूजा कुमारी, आनंद कुमार चौधरी तथा समस्त खादी ग्राम उद्योग के कर्मी मौजूद रहे.

गांधी और शास्त्री जयंती KISS और केआईआईटी में मनाया

भुवनेश्वर: – रिच श्रद्धांजलि, केआईआईटी और KISS बिरादरी द्वारा उनके जन्म वर्षगांठ के अवसर पर महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री को भुगतान किया गया सख्ती से 2 एन डी अक्टूबर, 2020 पर कोविड 19 दिशा-निर्देशों का पालन कर। गांधीजी की प्रतिमा को उनकी 151 वीं जयंती के अवसर पर माला पहनाते हुए, डॉ। अच्युत सामंत, संस्थापक, केआईआईटी और KISS श्रद्धांजलि राष्ट्रपिता के लिए भुगतान किया। बापूजी का स्मरण करते हुए, डॉ। सामंथा ने कहा, “उनका मुख्य धारा के समाज में वंचित, दलित और आदिवासी लोगों को आत्मसात करने का सपना था।” अब, गांधीजी के इस सपने वास्तव में KISS, डॉ के माध्यम से परिलक्षित किया गया है सामंथा ने टिप्पणी की।

महागठबंधन में सब ठीक – मान गए दीपंकर, सूचि लेंगे वापस, लड़ेंगे साथ


अन्य लोगों में प्रो। हृषीकेश मोहंती, कुलपति, केआईआईटी डीयू; प्रो शमिता सामंता, प्रो-वीसी; प्रोफेसर ज्ञान रंजन मोहंती, रजिस्ट्रार; प्रोफेसर Harekrushna सत्पथी, सलाहकार, ड्यू चुंबन; डॉ प्रशांत कुमार राउत्रे, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, KISS; और डॉ। संजय कुमार सुआर, KiiT इंटरनेशनल स्कूल के प्रिंसिपल, उपस्थित थे और उन्होंने गांधी जी की प्रशंसा की। बाद में, महात्मा गांधी की प्रतिमा KIIT-DU के परिसर में गांधी चौक पर स्थापित की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*