गिरिराज सिंह ने की दिलों को जोड़ने वाली बात, कहा राजनीति कटुता बढ़ाती है और खेल राष्ट्रीयता

गिरिराज सिंह ने कही दिलों को जोड़ने वाली बात, कहा राजनीति कटुता बढ़ाती है और खेल राष्ट्रीयता

आम तौर पर समाज में वैमनस्य फैलाने वाले बयान से चर्चा में रहने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने दिलों को जोड़ने वाली बात कही है.

● बीहट में आयोजित खेल सम्मान समारोह में केंद्रीय मंत्री गिरिराज ने खिलाड़ियों व अभिभावकों को खेल को बढ़ावा देने का किया अपील

 बेगूसराय से शिवानंद गिरि

राजनीति में वैमनस्यता बढ़ती है, लेकिन खेल में राष्ट्रीयता। खेल से टीम भावना आती है जबकि राजनीति से कटुता।  राजनीति में चुनाव हार जाने के बाद  कोई हाथ भी नही मिलाता है जबकि खेल में हार- जीत का कोई मायने नही होता और लोग न सिर्फ हाथ मिलाते हैं बल्कि गले भी मिलते हैं। आज क्रिकेट ने हमारे परंपरागत खेलों को हासिये पर ला दिया है।कबड्डी, वॉलीबॉल,कुश्ती हमारा असली भारतीय खेल था. लेकिन साजिश से कबड्डी को वह सम्मान नहीं मिल पाया जिसका हकदार है।सब लोग अंग्रेजों के गुलाम देश के खेल क्रिकेट के दीवाने हो गए हैं। बीहट की बेटियां बिहार की आन- बान और शान है और उनको खेल में कोई कठिनाई न हो इसके लिए आधुनिक सुविद्यायुक्त इनडोर स्टेडियम बनाया जाएगा।उक्त बातें बीहट में आयोजित  *’स्व.आर .एन. सिंह स्मृति खेल सम्मान*’समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री व सांसद गिरिराज सिंह ने कही।

खेल की नर्सरी है बिहट

आवश्यक संसाधनों के अभाव के बाद भी  66 साल बाद नेशनल लेवल पर महिला कबड्डी में कांस्य पदक दिलवाने वाली बिहार टीम में शामिल  बीहट की 7 बेटियों व कोच की तारीफ करते हुए सांसद ने कहा कि बीहट न सिर्फ राजनीतिक रूप से जागरूक गांव है बल्कि यह खेल का नर्सरी है। कला -संस्कृति के क्षेत्र में भी बीहट की कोई सानी नही है। उन्होंने कहा कि बीहट की ये बेटियाँ बीहट ही नहीं बिहार की आन -बान और शान है।हमें न सिर्फ प्रेरणा लेनी चाहिए बल्कि प्रोत्साहित भी करनी चाहिए।

बिहट में इंडोर स्टेडियम 

जिला कबड्डी संघ के सचिव श्यामनंदन सिंह ‘पन्नालाल’ की खिलाड़ियों के लिए मैट की मांग पर गिरिराज सिंह ने कहा कि वे मैट ही नही इनडोर स्टेडियम के लिए प्रयास करेंगे चाहें वो किसी फण्ड से क्यों न बनें। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि खिलाड़ियों को किसी प्रकार की दिक्कत नही हो इसका पूरा ख्याल रखा जाएगा।

AMD-ADD

निर्धारित समय से 6 घंटे विलंब से पहुँचने के बाद भी गर्मी में भी खेलप्रेमियों से खचाखच भरे मिथिला परिणय गृह के हाल को देख उत्साहित गिरिराज ने  अपनी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते मोदी और बिहार की नीतीश सरकार की तारीफ के पुल बांधते हुए  कहा कि पिछले पांच साल में खिलाड़ियों ने जितने मेंडल जीत कर लाये हैं उतने पिछली सरकारों में नहीं।बिहार में भी नीतीश की सरकार बनते ही जिला और प्रखंड स्तर पर स्टेडियम का निर्माण किया गया और यहां के ने  खिलाड़ियों ने

खेलाड़ियों को सम्मानित करते गिरिराज

भी बिहार का नाम काफी रोशन किया।सांसद ने कहा कि  पहले वाली बात अब नही है। ‘पढ़ोगे -लिखोगें तो होंगे नबाब और खेलोंगे -कूदोगे तो होगे खराब’।अब सोच बदलनी होगी।अब राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मेडल जितने या भागीदारी करने वाले खिलाड़ियों को सरकार नौकरी भी दे रही है।  उन्होंने अभिभावकों से इसी तरह बच्चों को खेल में आगे बढ़ाते रहने का आह्वाहन किया। अंतरराष्ट्रीय टीम में चयन होने पर भारत सरकार में नौकरी पक्की है. सरकार खेल को प्रेरित करने के लिए हर प्रयास कर रही है.
बिहार कबड्डी संघ के सचिव कुमार विजय ने कहा कि बीहट के ख़िलारियों के बिना बिहार की टीम की कल्पना ही बेमानी है।हम कबड्डी में इस मुकाम पर पहुँचे है तो बीहट के ख़िलारियो का न सिर्फ अहम योगदान है बल्कि कबड्डी के सचिव स्व.रामनंदन सिंह की भूमिका की जितनी प्रशंसा की जाय कम है।उन्होंने कहा कि बीहट में उन्होंने कबड्डी की जो नर्सरी लगाई थी उसी में से आज पल्लवित और पुष्पित होकर खिलाड़ी अपनी प्रतिभा का परचम लहरा रहे हैं। राजेश कुमार टूना ने कहा कि यदि यहां के खिलाड़ियों को आवश्यक संसाधन मुहैया हो जाय तो  काफी बेहतरीन प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है और ये तभी संभव है जब आम आदमी के साथ साथ जिले में स्थित कारखाना सहयोग करें।बरौनी डेयरी के एमडी मिश्रा ने कहा कि बीहट में बच्चों का सर्वांगीण विकास हो रहा है और बरौनी डेयरी हरसंभव मदद करता रहेगा।
हुंडई शो रूम के मालिक बिनय कुमार सिंह ने रामनंदन बाबू द्वारा किये गए कार्यों की तारीफ करते हुए खिलाड़ियों को यथासंभव मदद करते रहने का भरोसा दिया।
जिला कबड्डी संघ एवं स्पोर्टिंग क्लब बीहट के तत्वावधान में आयोजित समारोह में बिहार महिला कबड्डी टीम की कप्तान बीहट निवासी रेमी कुमारी, कोमल कुमारी, सरिता कुमारी, उत्तम कुमार, रिया कुमारी, आरती कुमारी, प्रियंका कुमारी तथा कोच भवेश कुमार को आर एन सिंह स्मृति खेल सम्मान से सम्मानित किया गया. इस दौरान सभी खिलाडियों के माता-पिता को भी सम्मानित किया गया. इसके अलावे बेगूसराय जिला में उत्कृष्ट काम करने वाले विभिन्न खेलों के भी पदाधिकारियों  नंदू कुमार,दीपक कुमार आदि को भी सम्मानित किया गया। समारोह की अध्यक्षता नप बीहट के पूर्व मुख्य पार्षद राजेश कुमार टूना, स्वागत भाषण जिला कबड्डी संघ के सचिव श्याम नंदन सिंह पन्नालाल, बिहार राज्य कबड्डी संघ के सचिव कुमार विजय, बरौनी डेयरी के एमडी आरसी मिश्रा, वाणिज्य प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष नीरज कुमार, पूर्व मेयर संजय कुमार, पूर्व जिलाध्यक्ष संजय कुमार सिंह, विनय हुंडई के निदेशक विनय सिंह सहित कई लोगों ने समारोह को संबोधित किया. समारोह में अभिनेता अमिय कश्यप, व्यवसायी प्रमोद कुमार, रामविलास सिंह ,अरुण सिंह ,अजय कुमार ,राजेश कुमार ‘राजू’,सुनील कुमार ,पप्पू कुमार आदि लोगों के साथ -साथ भारी संख्या में खेलप्रेमी उपस्थित थे। इस अवसर पर  खिलाड़ियों की तरह सभी अतिथियों को भी अंगवस्त्रम,मोमेंटो और पौधा से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में मिथिला संगीत महाविद्यालय कलाकारों  के प्राचार्य अशोक कुमार  के नेतृत्व में बलराम बिहारी,और आनंद कुमार अलबेला ,अमिय कश्यप ने  अपनी  रंगारंग प्रस्तुति से सबों का काफी मनोरंजन किया।कार्यक्रम का संचालन कुंदन कुमार ने किया जबकि सरोज कुमार,बिपिन कुमार ने सफल बनाने में अहम भूमिका निभाई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*