GNM छात्राओं के समर्थन में सड़क पर उतरे AISF, महिला समाज

GNM छात्राओं के समर्थन में सड़क पर उतरे AISF, महिला समाज

PMCH GNM छात्रावास को राजापाकर भेजे जाने के खिलाफ जारी आंदोलन को नई ताकत मिली। एआईएसएफ तथा बिहार महिला समाज समर्थन में उतरे।

PMCH GNM छात्रावास को PMCH से राजापाकर (वैशाली) भेजे जाने एवं छात्राओं को लगातार प्रताड़ित किए जाने के खिलाफ पीएमसीएच गेट पर छात्राओं ने आक्रोशपूर्ण धरना प्रदर्शन किया। कल सुबह ग्यारह बजे से ही बिहार महिला समाज, एआईएसएफ व जीएनएम छात्राओं ने पीएमसीएच गेट पर झंडे-बैनर से लैस हो, जीएनएम छात्राओं पर अत्याचार नहीं सहेंगे, जीएनएम छात्राओं को पटना में ही छात्रावास देना होगा, लाठीचार्ज के दोषी पदाधिकारियों पर कार्रवाई करनी होगी आदि नारे लगाते हुए जमकर धरना- प्रदर्शन किया।

प्रदर्शन स्थल पर छात्र नेता अमनलाल की अध्यक्षता में एक सभा हुई, जिसे छात्राओं का नेतृत्व कर रही बिहार महिला समाज की कार्यकारी अध्यक्ष निवेदिता झा ने संबोधित करते हुए कहा कि पीएमसीएच से छात्राओं को दूर राजापाकर भेजा जाना सरासर अन्याय है। यह छात्राओं को शिक्षा से दूर असुरक्षा मैं डालना है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

एआईएसएफ के पूर्व महासचिव विश्वजीत कुमार ने कहा कि जब तक छात्राओं के साथ न्याय नहीं होगा, उनकी सुरक्षा की गारंटी नहीं होगी और पटना में ही उनके लिए छात्रावास नहीं दिया जाएगा तब तक आंदोलन जारी रहेगा। एआईएसएफ जिला अध्यक्ष अक्षय कुमार ने कहा कि उनका संगठन पूरी ताकत से छात्राओं के आंदोलन के साथ है और जब तक छात्राओं के छात्रावास को पटना में ही नहीं दिया जाता तब तक हम आंदोलन को जारी रखेंगे।

जीएनएम स्टूडेंट्स फेडरेशन की अध्यक्ष प्रेरणा ने कहा कि हम छात्राओं को डरा कर अलग-थलग कर दिया गया था, लेकिन अब फिर आंदोलन से सभी एकजुट हो रही हैं और हम अपनी लड़ाई जारी रखेंगी। जीएनएम स्टूडेंट फेडरेशन की सचिव रोशनी ने कहा कि हम विभिन्न अधिकारियों को पत्र लिखकर भी हम अपनी मांगों से अवगत कराएंगे। आज के आंदोलन में छात्र नेता सुशील उमाराज, अभिषेक कुमार, भाकपा नेता देवव्रत प्रसाद, अनंत शर्मा, बिहार महिला समाज की नीलू, फातिमा, कृष्णा देवी, शाइस्ता अंजुम, सना शिरीन, प्रिया कुमारी, मानती कुमारी, मधु कुमारी पूणम, आदि दर्जनों साथी उपस्थित थे।

RCP को आभास हो गया कि नहीं बचेगी रास सदस्यता व मंत्री पद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*