केंद्र सरकार ने किया CRPF को व्‍यक्तिगत सुरक्षा कर्तव्‍यों से मुक्‍त करने का किया फैसला

केंद्र सरकार ने व्‍यक्तिगत सुरक्षा कर्तव्‍यों के विशिष्‍ट दायित्‍व में एकरूपता एवं मानकीकरण सुनिश्चित करने के लिए CRPF को धीरे-धीरे व्‍यक्तिगत सुरक्षा कर्तव्‍यों से मुक्‍त करने का फैसला किया है. साथ ही व्‍यक्तिगत सुरक्षा कर्तव्‍यों को  CISFऔर  NSG के सुपुर्द करने का फैसला किया है.

नौकरशाही डेस्‍क

ये जानकारी आज केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री हंसराज गंगाराम अहीर ने आज लोकसभा में एक लिखित उत्‍तर में दी. उन्‍होंने बताया कि वर्तमान में एसपीजी में 30 प्रतिशत अधिकारी सीआरपीएफ से प्रतिनियुक्ति पर हैं और एनएसजी में यह संख्‍या लगभग 11 प्रतिशत की है. सीआरपीएफ सहित सभी सीआरपीएफ उग्र वामपंथ (एलडब्‍ल्‍यूई) प्रभावित क्षेत्रों एवं जम्‍मू व कश्‍मीर की चुनौतीपूर्ण स्थितियों में कार्य करते हैं.

इसके अलावा उन्‍होंने पुलिस थाना स्‍तर या जिला स्‍तर या इससे नीचे के स्‍तर पर किसी अन्‍य पुलिस कार्यालय द्वारा किये जा रहे सकारात्‍मक कहानियों/अच्‍छे कार्यों के जरिये अच्‍छी छवि बनाने के बारे में बताया कि गृह मंत्रालय ने गृह सचिव के विभागीय आदेश पत्र दिनांक 14.07.2015 के माध्‍यम से राज्‍य सरकारों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों के सभी पुलिस महानिदेशकों (डीजीपी) से आवश्‍यक व्‍यवस्‍था करने तथा एक ऐसी प्रणाली बनाने को कहा था. इसके तहत उपलब्‍ध सूचना के अनुसार संबंधित राज्‍य या जिला पुलिस वेबसाइटों पर 44,708 सकारात्‍मक कहानियां/अच्‍छे कार्यों को अपलोड किया गया है. इसके अतिरिक्‍त 2014 में डीजीपी/आईजीपी सम्‍मेलन में माननीय प्रधानमंत्री द्वारा घोषित स्‍मार्ट पोलिसिंग पर विचार-विमर्शों पर आधारित पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्‍यूरो ने राज्‍यों/संघ शासित प्रदेशों के 43 सर्वश्रेष्‍ठ प्रचलनों को अपनी वेबसाइट (www.bprd.nic.in) पर अपलोड किया है.

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*