हैंड सर्जरी में नया अध्याय लिखने को तैयार है बिहार, 19 मई को होगा विचार

बहिरा में हैंड सर्जरी की संभावनाओं और जरूरतों को देखते हुए 19 मई को एक सम्मेलन का आयोजन हो रहा है. सम्मेलन में हैंड सर्जरी के नामचीन चिकिक्तसकों की उपलब्धियों और अनुभवों से बिहार को हर संभव फायदा उठाने का प्रय्तन किया जा रहा है.

डा. एचएन दिवाकर (दाहीने) व डा. राजीव

इस सम्मेलन के पहले बिहार के नामचीन पटना मेडिकल कालेज होस्पिटल में हैंड सर्जरी का सेपरेट युनिट शुरू किये जाने की मांग भी उठने लगी है. संभावना है कि 19 मई के सम्मेलन का उद्घाटन जब स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय करेंगे तो उन के समक्ष यह मांग रखी जायेगी.

बीते दिनों प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से दो प्र्मुख चिकित्सकों- डा. एचएन दिवाकर व डा. राजीव कुमार ने इस सम्मेलन की पूरी रूप रेख रखी. इन चिकित्सकों ने बताया कि बिहार हैंड सोसाइटी ऐंड एसोसिएशन आफ हैंड ऐंड माइक्रो सर्जंस आप इंडिया और बिहार आर्थोपेडिक एसोसिएशन मिल कर इस सम्मेलन का आयोजन कर रहे हैं.

 

यह सम्मेलन तारामंडल सभागार में आयोजित होगा. इस सम्मेलन में हैंड सर्जरी के लिए चर्चित डाक्टर आर नेहटे, डा.एस राजा सबा, डा. समेवि गुप्ता, डां. अनंत कुमार सिन्हा, डा. वीणा सिन्हा समेत अनेक विशेषज्ञ डाक्टर भी अपने अनुभव साझा करेंगे.

इस बीच हैंड सर्जरी के मामले में बिहार की ताजा स्थिति का उल्लेख करते हुए पीएमसीएच में अर्थोपेडिक सर्जन डा. राजीव रजक ने कहा है कि जरूरत को देखते हुए  पीएमसीएच में हैंड सर्जरी का सेपरेट युनिट शुरू किया जाना अब अनिवार्य हो गया है. उन्होंने कहा कि सेपरेट युनिट शुरू होने से हैंड सर्जरी के कठिन मामलों में स्वतंत्र रूप से काम करने और नये चिकित्सकों को इस फील्ड में आगे बढ़ने का मौका मिलेगा.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*