हवा पहचानिए, अयोध्या डीएम ने केसरिया बोर्ड हटा लगाया हरा

हवा पहचानिए, अयोध्या डीएम ने केसरिया बोर्ड हटा लगाया हरा

कहते हैं किसकी सरकार बन रही है इसकी भनक सबसे पहले ब्यूरोक्रेसी को लगती है। अयोध्या के डीएम ने अपने आवास से केसरिया बोर्ड हटाकर हरे रंग का बोर्ड लगाया।

फोटो -4पीएम के प्रधान संपादक संजय शर्मा के ट्विटर हैंडल से साभार

पांचवे चरण के चुनाव के बाद सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने एक सभा में कहा था कि भाजपा के नेता अपनी कारों और घरों से भाजपा का झंडा उतार रहे हैं। अब बड़ी खबर यह है कि अयोध्या के जिलाधिकारी ने अपने आवास पर लगा बोर्ड बदल दिया है। पहले केसरिया रंग में बोर्ड था, उसे हटाकर हरे रंग का बोर्ड लगा दिया गया है।

यूपी के वरिष्ठ पत्रकार और सरकार के खिलाफ खुलकर लिखने-बोलने वाले 4पीएम अखबार के प्रधान संपादक संजय शर्मा ने एक फोटो शेयर किया है, जिसमें कर्मी अयोध्या के जिलाधिकारी आवास से केसरिया बोर्ड हटा रहे हैं। उसे हटाकर नया बोर्ड लगाया गया है, जो गहरे हरे रंग का है। मालूम हो कि केसरिया रंग भाजपा और संघ वाले ज्यादा उपयोग करते हैं और हरा रंग सपा की पसंद है।

संजय शर्मा ने फोटो शेयर करते हुए ट्वीट किया-मैं ग़लत नहीं कहता था कि चूहे पहले भागते है ! ऊपर से नीचे तक नौकरशाही बदल रही है ! अयोध्या के डीएम घर से केसरिया बोर्ड हटा कर हरा लगा रहे है ! हद है ! अखिलेश यादव तो अपने घर का बोर्ड तक हरा नहीं लगवाते पर इन अफ़सरों का बदलाव बता रहा है कि दस मार्च को बाबा की विदाई तय मान रहे यह !

इससे पहले उन्होंने 28 परवरी को ही कहा था कि जहाज़ डूबता है तो चूहे सबसे पहले भागते है ! सुना है यूपी में IAS अफ़सरों की तैनाती संभालने वाले महाराज जी के सबसे करीबी अपर मुख्य सचिव खुद अखिलेश जी के पास गुहार लगाने पहुँच गये ! डर था कि कही दस मार्च के बाद दिल्ली जाने की NOC ही ना अटक जाये ! बदल रही है यूपी की नौकरशाही !

संजय शर्मा ने पिछले दिनों अमित शाह का एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें शाह एक रोड शोो में कह रहे हैं कि यह रोड शो बेकार है। बंद करो। इसके एक-दो दिन बाद ही उनका यू-ट्यूब चैनल 4पीएम बंद कर दिया गया या हैक कर लिया गया। इसके बाद देशभर से संजय शर्मा के चैनल को इस तरह बंद करने के खिलाफ आवाज उठी थी। फिर कई दिनों बाद उनका यूट्यूब चैनल रिस्टोर हुआ था।

तेजस्वी ने संघ के बारे में नीतीश की बात दुहराई तो हंगामा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*