पद्म सम्मान से साहित्य सम्मेलन का ध्वज और ऊँचा हुआ है: डा अनिल सुलभ 

पद्म सम्मान से साहित्य सम्मेलन का ध्वज और ऊँचा हुआ हैडा अनिल सुलभ 

पद्म सम्मान से साहित्य सम्मेलन का ध्वज और ऊँचा हुआ है: डा अनिल सुलभ

सम्मेलन से जुड़ी पद्मसम्मान से विभूषित विदुषियों और विद्वानों का किया गया भव्य अभिनंदन 

पटना१ फरबरी। बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन से संबद्ध बिहार की विदुषियों और विद्वानों के पद्मसम्मान हेतु चयन से सम्मेलन का मानध्वज और ऊँचा हुआ है। सम्मानित होनेवाली बिहार की इन सभी विभूतियों ने साहित्यकला और समाज की अत्यंत मूल्यवान सेवाएँ की हैंइसलिए इनका सम्मान सर्वथा उचित और प्रशंसनीय है। साहित्य सम्मेलन को इन सब पर बड़ा ही गौरव है।  

यह बातें शनिवार को सम्मेलन सभागार में आयोजित अभिनंदन समारोह की अध्यक्षता करते हुएसम्मेलन अध्यक्ष डा अनिल सुलभ ने कही। डा सुलभ ने कहा किजो समाज अपने बीच के वरेण्यजनों का सम्मान करता हैवह उन्नति को प्राप्त होता है। ठीक इसके विपरित जो अपने बड़ोंबुज़ुर्गों और वरेण्य जनों का सम्मान नहीं करतावह समाज पतनोन्मुख हो जाता है। उन्होंने कहा किइस वर्ष भारत सरकार द्वारा बिहार के ६ व्यक्तियों को पद्मसम्मान से विभूषित करने का निर्णय लिया हैजिनमें से चारडा शांति जैनडा विमल जैनप्रो श्याम शर्मा और प्रो रामजी सिंह सम्मेलन से जुड़े हुए हैं। इसलिए भी यह समाचार हम सबके लिए आह्लादप्रद और गौरवपूर्ण है।

इसके पूर्व पटना उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति संजय कुमार ने पुष्पहार और वंदनवस्त्र प्रदान करपद्मश्री सम्मान से विभूषित डा शांति जैनडा विमल जैनप्रो श्याम शर्मा तथा डा शांति राय का सम्मेलन की ओर से अभिनंदन किया। अस्वस्थ रहने के कारण प्रो रामजी सिंह उपस्थित नही हो सके।अपने उद्गार में न्यायमूर्ति ने अभिनंदित व्यक्तियों को बधाई देते हुए कहा कि यह सम्मान केवल इनका हीं नहींबल्कि संपूर्ण बिहार का सम्मान है। इन विभूतियों ने संपूर्ण देश में बिहार का नाम गौरवान्वित किया है। पद्मसम्मान इन सबकी व्यक्तिगत उपलब्धि तो है ही किंतु निश्चित रूप से इससे बिहार का सम्मान,साहित्यकला और समाजसेवा के क्षेत्र मेंबढा है। सम्मेलन की उपाध्यक्ष डा मधु वर्माडा कल्याणी कुसुम सिंहप्रो बासुकी नाथ झा तथा डा भूपेन्द्र कलसी ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

इस अवसर परवरिष्ठ कवयित्री डा पुष्पा जमुआरपूनम आनंदडा नवनीत शर्माअमियनाथ चटर्जीडा मेहता नगेंद्र सिंहडा शालिनी पाण्डेयकुमार अनुपमडा भावना शेखरआरपी घायलरमेश कँवलआराधना प्रसादविवेक द्विवेदीडा सुलक्ष्मी कुमारीराज कुमार प्रेमीडा अर्चना त्रिपाठीडा सुधा सिन्हाचंदा मिश्रडा सुलोचना झासागरिका रायमाधुरी भट्टकुंदन झाडा पल्लवी विश्वासडा विनय कुमार विष्णुपुरी,डा मुकेश कुमार ओझाप्रभात धवनशुभचंद्र सिन्हाडा कुंदन कुमारजय प्रकाश पुजारीराज किशोर ओझाश्रीकांत व्यासअरविंद कुमार सिंहअन्नपूर्णा श्रीवास्तवडा निर्मला सक्सेनाफ़िरोज़ आलमअमरेन्द्र कुमारसरोज गुटगुटियाबच्चा ठाकुरनेहाल कुमार सिंह निर्मल‘,सुमन कुमार प्रतिभा सिंह, बिंदेश्वर प्रसाद गुप्ता आदि बड़ी संख्या में प्रबुद्धजन उपस्थित थे। 

मंच का संचालन योगेन्द्र प्रसाद मिश्र ने तथा धन्यवादज्ञापन कृष्णरंजन सिंह ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*