कार्पोरेट

यौन उत्पीड़न: तेजपाल बनाम ‘साहब’ का ऐंगल

इस मामले में सबके दामन दागदार हैं. चाहे वह राजनीतिक पार्टियां हों, मीडिया हो, कार्पोरेट हो या बॉलिवुड. मतलब जहां सत्ता है वहां शोषण है. यह शोषण आर्थिक भी है और शारीरिक भी. अगर मामला महिलाओं का है तो यौन उत्पीड़न भी इसमें शामिल है. इर्शादुल हक, सम्पादक नौकरशाही डॉट इन पर तुरूण तेजपाल की घटना ने कुछ राजनीतिक दलों ...

Read More »

आईएएस सुभाष शर्मा की पुस्तक का हुआ विमोचन

आईएएस सुभाष शर्मा की पुस्तक ‘सोसियोलॉजी ऑफ लिट्रेचर’ के विमोचन समारोह में जातिवादी साहित्य और शब्दों के उपयोग पर गर्रमागर्म बहस हुई. आलोचक खगेंद्र ठाकुर ने कहा कि लोहिया सवर्ण शब्द की जगह द्विज शब्द का उपयोग करते थे जबकि इन दिनों सवर्ण शब्द का दुरूपयोग होने लगा है. अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि कि इन ...

Read More »

शाहरुख की राह पर गडकरी: उर्दू सम्पादकों से मुलाकात

शाहरुख खान ने ‘माई नेम इज खान’ के प्रोमोशन में पहली बार उर्दू सम्पादकों को अपने घर बुलाया था अब मंगलवार को भाजपा के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी ने ऐसा किया यह एक जैसा संयोग तो नहीं? अमित सिन्हा भले ही शाहरुख और नितिन गडकरी द्वार उर्दू मीडिया से विशेष बात करने के उद्देश्यों का कोई सीधा संबंध नहीं है ...

Read More »

यह डीएसपी इमरान के खिलाफ अफवाह तो नहीं!

रिटार्यड डीएसपी इमरान हसन से,पटना ब्लास्ट के आरोपियों के कथित संबंध की उड़ाई गयी खबरों पर यह रिपोर्ट पढ़ें जो कुछ और ही किस्से बताती हैं. विनायक विजेता बोधगया सीरियल ब्लास्ट के बाद पटना के गांधी मैदान में हुंकार रैली के दौरान हुए सीरियल ब्लास्ट की जांच कर रही एनआईए ने पूर्व डीएसपी इमरान हसन से पूछताछ के लिए उन्हें ...

Read More »

जीवन में ज्योतिष का योगदान

ज्योतिष एक विज्ञान है या आस्था से जुड़ा शास्त्र,यह एक बहस का मुद्दा रहा है पर यह तय है कि अपने भाग्य पर विश्वास करने वाले करोड़ों लोग ज्योतिषी और ज्योतिष शास्त्र में विश्वास करते हैं. डा राजन राज पिछले 18 सालों से ज्योतिषी के रूप में अपनी सेवायें दे रहे हैं. वह कहते हैं, ज्योतिष वस्तुत: ग्रहों के जरिये ...

Read More »

बिहार में नरसंहारों की राजनीति

बाथे नरसंहार के आरोपियों को पटना हाईकोर्ट द्वारा बरी किये जाने के बहाने बिहार में नरसंहारों को राजनीति पर प्रकाश डाल रहे हैं अनीश अंकुर यदि रणवीर सेना के उद्भव पर नजर दौड़ायी जाए। रणवीर सेना का गठन रणवीर चैधरी नामक 19 वीं सदी में भोजपुर क्षेत्र में भूमिहार जाति में एक ऐसे ‘फोक’ चरित्र के नाम पर हुआ था ...

Read More »

मोदी जी! आतंकवाद पर आपका दांव उलटा न पड़ जाये

आदरणीय सुशील मोदी जी! पटना ब्लास्ट पर आपका राजनीतिक दांव उलटा न पड़ जाये क्योंकि जांच जिस दिशा में बढ़ रही है वह अंतरधार्मिक गठजोड़ की ओर इशारा करता है. इर्शादुल हक सुशील कुमार मोदी राजनीति पर राजनीति किये जा रहे हैं. करना भी चाहिए.एक नेता को इसका हक भी है. पर हुंकार रैली बम विस्फोट पर जिस तरह मोदी ...

Read More »

पटना ब्लास्ट: चिंढ़ारने वाला मीडिया आज चुप क्यों है?

पटना ब्लास्ट पर चिंढ़ारें मारने वाले चैनल व कलम तोड़ कर लिखने वाले अखबार आज चुप हैं. पुलिस संय्यमित हैं.उन्हें शायद सममझ आ गयी कि आतंकवादियों का कोई धर्म नहीं होता. इर्शादुल हक, सम्पादक नौकरशाही डॉट इन आप कह सकते हैं कि मैं मुगालते में हूं. और मीडिया की यह चुप्पी एक रणनीतिक चुप्पी है. क्योंकि 10 नवम्बर को लखीसराय ...

Read More »

“कांग्रेसियों की शक्ल देख कर ही घृणा आती है”

बॉलीवुड के अभिनेता व गायक पियूष मिश्रा को कांग्रेसियों की शक्ल देख कर ही घृणा आने लगती है और वह अपनी गाली को नियंत्रित करने का प्रयास करते हैं.पढ़ें पूरा साक्षात्कार पियुष, अभिषेक आनंद से बात करते हुए कहते हैं कि जब सबके सर पर कलंक लगे हैं तो मोदी को एक बार मौका देकर देखना चाहिए. गुलाल और गैंग्स ...

Read More »

‘पटना ब्लास्ट की निष्पक्ष जांच हो’

शाही इमाम मस्जिद फ़तहपूरी दिल्ली मुफ़्ती मुहम्मद मुकर्रम अहमद मुजफ्फरनगर में ताजा हिंसा के मद्देनजर वहां के डीएम और एसपी को बर्खास्त करने की मांग की है. मुकर्रम अहमद ने कहा कि केंद्र सरकार, उत्तर प्रदेश सरकार और मुलायम सिंह को मुजफ्फरनगर में शांति बहाली पर ठोस कदम उठाना चाहिए. अगर इससे भी हालात काबू में न आये तो केंद्र ...

Read More »