एडिटोरियल कमेंट

दुनिया छोड़ गये सुहैल खान: जिनकी रिपोर्ट ने कर दी थी राबड़ी सरकार की नींद हराम, राजनीति में आई थी भूचाल

बिहार राज्य अल्पसंख्यक आयोग के निरंतर बारह वर्षों तक चेयरमैन रहे प्रो सुहैल अहमद खान भी नहीं रहे. उनका देहांत रविवार को साढ़े नौ बजे सुबह में हो गया है. सेराज अनवर, रेजिडेंट एडिटर फारूकी तंजीम कल 29 जनवरी को दस बजे दिन में अंज़ूमन इसलामिया पटना में जनाज़े की नमाज़ होगी और क़दम कुआँ पीरमुहानी क़ब्रिस्तान में सुपुर्द ए ...

Read More »

‘जवाब दीजीए मुख्य सचिव साहब, ट्रेन में शराब मिलेगी तो क्या आप ट्रेन भी जब्त कर लेंगे’?

बिहार के मुख्यसचिव को इस बात का जवाब देने को कहा गया है कि वह बतायें कि अगर बिहार से गुजर रही ट्रेन में शराब मिल जाये तो क्या आप ट्रेन जब्त कर लेंगे?  यह तीख लेकिन तर्कपूर्ण सवाल पटना हाईकोर्ट ने मुख्यसचिव से पूछा है. इतना ही नहीं मुख्यसचिव को अदालत ने हुक्म दिया है कि वह खुद हाजिर ...

Read More »

यह क्या! ग्रामीण विकास विभाग ने वित्त वर्ष समाप्ति से पहले लगा दी तबादलों की झड़ी, ठप हुए काम

नीतीश सरकार के 7 निश्चय पूरे करने की भारी चुनौतियां हैं. लेकिन ग्रामीण विकास विभाग ने वित्त वर्ष समाप्त होने से पहले ही अफसरों के तबादले की झड़ी लगा दी है. आखिर क्यों?  नौकरशाही ब्यूरो,मुकेश कुमार इन तबादलों के कारण न सिर्फ 7 निश्चय का काम अटकेगा बल्कि नये  अधिकारियों के आने के बाद छह माह तो इलाके का भूगोल ...

Read More »

एडिटोरियल कमेंट: नीतीश पर हमला, मीडिया का रवैया और आम जन की प्रतिक्रिया

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफिले पर शुक्रवार को भारी पत्थरबाजी हुई. कई अधिकारी घायल हुए. नीतीश को काफी मशक्कत के बाद सुरक्षित निकाला गया. पर मेनस्ट्रीम अखबारों ने इसे डाउन प्ले किया. क्यों? इ्रशादुल हक, एडिटर नौकरशाही डॉट कॉम   किसी राज्य के मुख्यमंत्री के काफिले पर हमला हो जाये और दूसरे दिन अखबार में  उस खबर को पेज वन ...

Read More »

सुप्रीम कोर्ट जजों का विवाद: मुद्दे की लीपापोती में लगे चैनल्स,इसलिए जजों की चिट्ठी हिंदी में पढ़ लीजिए

सुप्रीम कोर्ट के जजों के बीच छिड़ा इतिहास का यह पहला और सबसे बड़ा विवाद है. इससे पहले कि न्यूज चैनल्स आपको असल मुद्दे से भटका दें आप को चार जजों की चीफ जस्टिस को लिखी चिट्ठी का हिंदी अनुवाद जरूर पढ़ना चाहिए. प्रिय मुख्य न्यायाधीश जी, बड़ी नाराज़गी और दुख के साथ हमने सोचा कि यह चिठ्ठी आपके नाम ...

Read More »

EDITORIAL COMMENT; तलाक बिल पर मुस्लिम ‘बहनों’ के ये नये हमदर्द भाई बगलें क्यों झांकने लगे हैं?

मुस्लिम ‘बहनों’ को इंसाफ का हवाई जुमला फेकने वाले अब अपने वास्तविक चरित्र में दिखने लगे हैं.सुप्रीम कोर्ट और फिर लोकसभा में मुस्लिम ‘बहनों’ के प्रति ड्रामाई सहानुभूति की पटकथा की पोल खुल ही गयी है. पढिये इर्शादुल हक का एडिटोरियल कमेंट- जरा इसे गौर से समझिये. सत्तानशीनों ने इन ‘बहनों’ को तीन तलाक के अभिषाप से मुक्ति दिलाने का बीड़ा ...

Read More »

एडिटोरियल कमेंट: तलाक बिल पर सहयोगी तेदपा व विपक्ष के चक्रव्यूह में कराह रही है भाजपा

जिस तलाक बिल को भाजपा ने लोकसभा में सात घंटे में पास करवा लिया वही बिल राज्यसभा में उसके गले की हड्डी नब गया है. लोकसभा में  विपक्ष भी साथ था. लेकिन राज्यसभा में उसकी सहयोगी तेलुगु देशम पार्टी ने भी उसे आंख दिखा कर चक्रव्यूह में फंसा दिया है. इर्शादुल हक, एडिटर, नौकरशाहीडॉटकॉम सच पूछिए तो तलाक बिल पर ...

Read More »

पाकिस्तान के बहाने ट्रम्पभक्ति में लीन चैनल भारतीयों को मुर्ख बना रहे हैं

कुछ चैनल भारत के भक्तनुमा भोले लोगों को मुर्खता से आजाद होने देना नहीं चाहते. टेररिज्म के पोषक राष्ट्र अमेरिका के सनकी राष्ट्रपति को अंकल ट्रम्प बना कर ऐसे पेश कर रहे हैं कि हमारे लोग खुशी से कूद रहे हैं. इ्रशादुल हक, एडिटर, नौकरशाहीडॉटकॉम ट्रम्प ने पाकिस्तान को दी जाने वाली डॉलरी मदद रोकने की बात क्या कह दी ...

Read More »

इन चार कारणों से बकवास साबित होगा इंस्टैंट तलाक का कानून

लोकसभा ने ट्रिपल तलाक पर पेश बिल को मंजूर कर लिया है. राज्यसभा से पास होने के बाद यह कानून बन जायेगा. हमारे सम्पादक इर्शादुल हक उन चार कारणों  को गिना रहे हैं जिसके अनुसार यह  कानून दहेज के खिलाफ बने कानून की तरह बकवास साबित होगा.   एक सुनयिये भारत के सांसदो.आप तलाक पर कोई कानून बना लीजिए. या ...

Read More »

अपने इस कद्दावर नेता के ताबड़-तोड़ हमले के सामने क्यों बेबस है जदयू ?

जदयू के प्रदेश उपाध्यक्ष व बिहार असेम्बली के पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी बगाव का झंडा बुलंद कर चुके हैं. समय समय पर पार्टी के खिलाफ जोरदार हमला बोल रहे हैं पर पार्टी का कोई नेता उनके खिलाफ न तो एक शब्द बोललने का साहस कर पा रहा है और न ही पार्टी उनके खिलाफ कोई एक्शन ले रही है. ...

Read More »