IAS हरिओम फिर चर्चा में, मानसरोवर यात्रा पर आई नई पुस्तक

IAS हरिओम फिर चर्चा में, मानसरोवर यात्रा पर आई नई पुस्तक

IAS हरिओम उत्तर प्रदेश के सर्वाधिक चर्चित आईएएस अधिकारियों में एक हैं। अपनी ड्यूटी के साथ ही म्यूजिक, गीत के लिए जाने जाते हैं। अब उनकी नई पुस्तक आई है।

आईएएस अधिकारी हरिओम को उत्तर प्रदेश ही नहीं, अन्य राज्यों में भी लोग जानते हैं और उनका सम्मान करते हैं। वे म्यूजिक, गीत-गजलों के लिए भी जाने जाते हैं। इसके साथ ही एक बार वे योगी आदित्यनाथ को जेल भी भिजवा चुके हैं। उस समय वे गोरखपुर के जिलाधिकारी थे।

आज उन्होंने खुद सोशल मीडिया पर अपनी नई किताब कैलाश मानसरोवर यात्रा : आस्था के वैचारिक आयाम के प्रकाशित होने की जानकारी साझा की है। उनकी पुस्तक को आईएएस एसोसिएशन ने भी रिट्विट किया है।

नेताओं के अजमेरशरीफ चादर रवाना करने पर IPS का सवाल

यह पुस्तक तीर्थ को सिर्फ आस्था की नजर से प्रस्तुत नहीं करती, बल्कि आस्था के इर्द-गिर्द फलते बाजार, संस्कृति और बहुत कुछ प्रस्तुत करती है। इस तरह पुस्तक तीर्थ को देखने की नई दृष्टि भी देती है।

पुस्तक के बारे में श्रीधरम ने लिखा है-कैलाश मानसरोवर यात्रा के माध्यम से हरिओम यात्रा आख्यान विधा में बहुत कुछ तोड़ते और जोड़ते हैं। अरुण प्रकाश ने गद्य की पहचान में लिखा है कि यात्री के पास गंतव्य का मानचित्र ही नहीं होना चाहिए, एक स्वस्थ दृष्टिकोण भी होना चाहिए। हरिओम के पास वह स्वस्थ दृष्टिकोण है, जिससे वह तीर्थयात्रा को भी रम्य आख्यान में बदल देते हैं।

खेत बचाओ के बाद अब बैंक बचाओ, देश बचाओ

श्रीधरम लिखते हैं, हरिओम की दृष्टि खुली और आलोचनत्मक है, जिसके कारण वे तीर्थों के भूगोल में फैले व्यवसाय और कुव्यवस्था को भी सामने लाते हैं।

हरिओम न सिर्फ धर्म, आस्था आदि पर तार्किक ढंग से विचार करते हैं, बल्कि समाज का मनोवैज्ञानिक विश्लेषण भी करते हैं। उन्होंने विकास और पर्यावरण के बीच के असंतुलन को भी शिद्दत के साथ रेखांकित करते हैं। पुस्तक की जानकारी सोशल मीडिया पर आते ही आईएएस हरिओम को देशभर से बधाइयां मिल रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*