इंडो-इस्लामिक वास्तुकला के साथ तैयार हो रहा अंजुमन इस्लामिया

इंडो-इस्लामिक वास्तुकला के साथ तैयार हो रहा अंजुमन इस्लामिया

पटना के अशोकराज पथ पर स्थित अंजुमन इस्लामिया हॉल अब सुंदर और अनेक सुविधाओं से लैस हो रहा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया मुआयना।

अंजुमन इस्लामिया के निर्माण कार्य का निरीक्षण करते नीतीश कुमार

राजधानी पटना के अशोक राजपथ स्थित अंजमन इस्लामिया हॉल अब बिल्कुल नए स्वरूप के साथ तैयार हो रहा है। निर्माण में इंडो-इस्लामिक वास्तुकला की खासियत को समाहित किया गया है। आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसके निर्माण कार्यों को खुद देखा।

भवन निर्माण विभाग के सचिव कुमार रवि ने मुख्यमंत्री को अंजुमन इस्लामिया हॉल में कराए जा रहे कार्यों के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह indo-islamic वास्तुकला की विशेषताओं को समावेशित कर तैयार किया गया है। यह बेसमेंट के अलावा छःमंजिला होगा। परिसर में मुख्य भवन के अतिरिक्त लैंडस्केप, वजू खाना, रेन वाटर हार्वेस्टिंग, पार्किंग स्थल भी होंगे।

भूतल पर इंट्रेंस लॉबी के साथ दो विवाह भवन, रसोईघर एवं शौचालय होंगे। प्रथम तल पर इबादतगाह, कॉन्फ्रेंस हॉल का प्रावधान है। दूसरे, तीसरे, चौथे, पांचवे तल्ले पर मल्टी यूटिलिटी स्पेस का प्रावधान किया गया है, जिसका इस्तेमाल कल्याणकारी कार्यों के लिए होगा। छठे तल पर डिलक्स कमरे तथा सादारण कमरे होंगे।

निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि अंजुमन इस्लामिया हॉल विशेष से तैयार किया जा रहा है। परिसर में साफ सफाई की समुचित व्यवस्था रखें। उन्होंने कहा कि एक तल पर बिहार राज्य सुन्नी वक्फ बोर्ड का कार्यालय और विद्यार्थियों के लिए कल्याणकारी पाठ्यक्रमों की व्यवस्था करें। अन्य तलों पर कल्याणकारी कार्यों की व्यवस्था हो। उससे होनेवाली आय से परिसर का मेंटेनेंस हो और सुन्नी वक्फ बोर्ड को भी आर्थिक सहायता मिले।

निरीक्षण के दौरान अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री जमा खान, बिहार राज्य सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन मो. इरशादुल्लाह, बिहार राज्य शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन अफजल अब्बास, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी सहित अनेक अधिकारी उपस्थित थे। अधिकारियों ने कहा कि निर्माण अंतिम चरण में है।

फिर निषादपुत्र का काटा अंगूठा : मुकेश सहनी मंत्री पद से बरखास्त

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*