IRCTC होटल आवंटन कथित घोटाला में तेजस्वी को मिली जमानत तो मोदी ने पूछा 5 सवाल

IRCTC होटल आवंटन कथित घोटाला में तेजस्वी को मिली जमानत तो मोदी ने पूछा 5 सवाल

 IRCTC घोटाला

IRCTC होटल आवंटन कथित घोटाला में तेजस्वी को मिली जमानत तो मोदी ने पूछा 5 सवाल

आज पटियाला हाउस कोर्ट ने IRCTC होटल आवंटन मामले में तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी को जमानत दे दी. इसके बाद भाजपा नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने उन पर सवालों की बौछार कर दी.

मोदी ने कहा कि आईआरसीटीसी होटल घोटाले में प्रवत्र्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से मनी लाउंड्रिंग के मामले में तेजस्वी यादव, राबड़ी देवी व अन्य के खिलाफ दाखिल चार्जशीट पर दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट से पासपोर्ट जब्त कर एक लाख के मुचलके पर मिली अंतरिम जमानत पर राजद और कांग्रेस ऐसी खुशियां मना रहे हैं मानो सभी आरोपित दोषमुक्त हो गए हों।

पढ़ें- IRCTC घोटाला में तेजस्वी को मिली जमानत, मोदी ने कहा जमानत मिली दोष से मुक्ति नहीं

 

मोदी ने कहा कि  दरअसल जमानत मिलने का मतलब आरोपमुक्त और रिहा हो जाना नहीं है। जिस तरह से चारा घोटाले में लालू प्रसाद सहित सभी दोषसिद्ध आरोपितों को सजा हुई हैं उससे ज्यादा पुख्ता सबूत इस मामले में भी सीबीआई और ईडी के पास है, इसलिए कोई बच नहीं सकेगा।


तेजस्वी यादव को बताना चाहिए कि –

* तेजस्वी यादव को यह बताना चाहिए कि सदाचार की किसी कमाई से वे मात्र 29 साल की उम्र में 5 मकान, 47 भूखंड सहित कुल 52 सम्पत्ति के मालिक बन गए हैं?

* क्या रेलवे के रांची और पुरी के दो होटलों को रेलमंत्री की हैसियत से लालू प्रसाद द्वारा लीज पर देने के एवज में हर्ष कोचर से पटना में 3.5 एकड़ जमीन डिलाइट मार्केटिंग कंपनी के नाम से रजिस्ट्री नहीं कराई गयी?

* क्या यह डिलाइट मार्केटिंग कम्पनी लालू प्रसाद के विष्वस्त प्रेमचन्द गुप्ता की नहीं थी जिसके शेयर्स वर्ष 2010-11 से तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी के नाम ट्रांसफर किए जाने लगे तथा 2014-16 के बीच तेजस्वी, तेजप्रताप, राबड़ी, चंदा यादव व रागिनी लालू निदेशक बना दिए गए?

* तेजस्वी यादव बतायें कि मात्र 64 लाख रुपये की पूंजी लगातर 94 करोड़ बाजार मूल्य की सम्पत्ति के मालिक कैसे बन गए?

* क्या इसी जमीन पर 750 करोड़ की लागत से बिहार का सबसे बड़ा माॅल का निर्माण बिना पर्यावरण क्लीयरेंस और नक्शा पास कराए अवैध तरीके से नहीं कराया जा रहा था?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*