चुनावी झांसा:आधे-अधूरे ISBT का उद्घाटन करने को बेताब नीतीश

चुनावी झांसा:आधे-अधूरे ISBT का उद्घाटन करने को बेताब CM

ISBT पटना का उद्घाटन नीतीश करेंगे

पटना के आईएसबीटी ( ISBT Patna) यानी अंतर्राजीय बस टर्मिनल का उद्घाटन 18 सितम्बर को  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कर रहे हैं. चुनाव से पहले यह पेशकदमी हडबड़ी की शादी कनपट्टी में सिंदूर जैसा है.

नौकरशाही डॉट कॉम ने एक दिन पहले इस बस टर्मिनल का जायजा लिया तो पता चला कि बस टर्मिनल का काम अभी आधा-अधूरा ही पूरा हुआ है.

आप तस्वीर में देख सकते हैं कि बस स्टैंड की पार्किंग ऐरिया में जाने वाला एप्रोच पथ (Approach Road) अभी तक नहीं बना है. परिसर में इमारतों के चार ब्लाक है. इन चार ब्लाक्स में से सामने के दो ब्लाक तो बन कर तैयार हैं पर पीछे के दो ब्लाक का काम अभी पूरा नहीं हुआ है.

भारत और चीन के बीच युद्ध जैसी स्थिति क्यों है ?

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विधान सभा चुनाव के लिए आचार संहिता लागू होने से पहले उद्घाटन की खानापूर्ति कर लेना चाहते हैं. लेकिन निर्माणस्थल को देखने से यह साफ पता चलता है कि आने वाले छह-8 महीने में भी यहां बसों का ठहराव और आने जाने की व्यवस्था पूरी हो पायेगी यह कहना मुश्किल है.

निर्माण कार्य में लगे कर्मियों से बात करने पर वह आफ दी रिकार्ड बताते हैं कि जिस गति से निर्माण कार्य चल रहा है उससे यह नहीं लगता कि काम अगले छह महीने में भी पूरा हो सकेगा.

बुडको की देख रेख में  शापुरजी पालनजी ऐंड कम्पनी प्राइवेट लिमेटेड भी इस निर्माण में लगी है. कम्पनी ने हाल ही में अपने प्रोजेक्ट मैनेजर शाह रॉय को हटा कर उनकी जगह समीर हलदर को ज़िम्मेदारी दी है.

यहां काम करने वाले कर्मियों का कहना है कि उक्त कम्पनी वर्कर्स की सैलरी समय से नहीं देती और लॉकडाउन के नाम पर सैलरी में कटौती भी की गयी है जिसके कारण अनेक वर्कर्स काम छोड़ कर जा चुके हैं.

339 करोड़ रुपये की लागत से 25 एकड़ भूमि पर इस प्रोजेक्ट का निर्माण कार्य को हरी झंडी 2017 में मिली थी. विश्वस्तरीय इस बस टर्मिल में अत्यआधुनिक सुविधाओं के साथ बनाने की योजना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*