IYC का एलान, जिन पर UAPA लगा, उनका केस लड़ेगा संगठन

IYC का एलान, जिन पर UAPA लगा, उनका केस लड़ेगा संगठन

आज युवा कांग्रेस ने बड़ा एलान किया। त्रिपुरा पुलिस ने जिन 102 लोगों पर UAPA लगाया, उन सबका केस लड़ेगा संगठन। कहा, नफरत के खिलाफ आवाज दबाई नहीं जा सकती।

कुमार अनिल

युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.वी. श्रीनिवास ने आज बड़ा एलान किया। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में सांप्रदायिक हिंसा के खिलाफ बोलनेवाले जिन 102 लोगों पर त्रिपुरा पुलिस ने यूएपीए लगाया है, उन सबका मुकदमा उनका संगठन लड़ेगा। मालूम हो कि इन 102 लोगों में पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता, अधिवक्ता शामिल हैं। पत्रकार श्याम मीरा सिंह ने सिर्फ इतना ही लिखा था- त्रिपुरा इज बर्निंग। इन तीन शब्दों के कारण ही उनपर यूएपीए जैसी धारा लगा दी गई।

युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास ने ट्वीट किया-Tripura Police के द्वारा 102 से ज्यादा आम लोगों पर UAPA के तहत कार्यवाही करना निंदनीय है। नफरत के खिलाफ उठ रही इन आवाजों को दबाया नही जा सकता @IYCLegalCell आपकी कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए वचनबद्ध है,अगर police द्वारा ऐसा कोई नोटिस मिला है तो iyc.legalcell@gmail.com पर संपर्क करें।

श्रीनिवास की घोषणा के बाद सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में लोग सराहना कर रहे हैं। मो. वसीम अहमद ने कहा-102 लोगों में ढेर ऐसे मुस्लिम युवा हैं जो अलग अलग पार्टी को सपोर्ट करते हैं लेकिन जिस पार्टी के लिए दिन-रात लड़ते आज वह पार्टी कहीं नहीं। इसलिए कहता हूं मज़लूम के साथ, सच के साथ सिर्फ कांग्रेस है। अमरनाथ मुखर्जी ने कहा-बस ये काम बिना डरे कांग्रेस ही कर सकती है।

उधर, आज भी त्रिपुरा पुलिस के कदम पर लोग सवाल उठा रहे हैं। पत्रकार पुनीत कुमार सिंह ने ट्वीट करके पूछा- एक नागरिक होने के नाते मेरे त्रिपुरा पुलिस से सवाल क्या त्रिपुरा में मस्जिदों को नहीं जलाया गया ? क्या त्रिपुरा में मुस्लिमों को चुन-चुनकर नहीं मारा गया ? क्या त्रिपुरा में मुसलमानों की दुकानों में आग नहीं लगाई गयी? क्या त्रिपुरा में भगवाधारी गुंडों ने हिंसा नहीं की?

शराबबंदी कितनी कारगर? तेजस्वी ने पूछे 15 सवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*