जहरीली शराब से नवादा और बेगूसराय में आठ लोगों की मौत

जहरीली शराब से नवादा और बेगूसराय में आठ लोगों की मौत

बिहार में शराबबंदी लागू है, इसके बावजूद शराब बनाने और बेचने का अवैध धंधा जारी है। इसी का परिणाम है कि जहरीली शराब से आठ लोगों की मौत हो गई।

बिहार में पिछले कुछ घंटों में जहरीली शराब पीने से अलग-अलग जिलों में आठ लोगों की मौत हो गई। जहरीली शराब पीने से सबसे अधिक नवादा में छह लोगों की मौत हो गई। हालांकि अभी तक जहरीली शराब से मौत की पुष्टि अबतक आधिकारिक तौर पर नहीं की गई है।

नवादा जिले की भदौनी पंचायत के गोंदापुर, खरीदी बिगहा गावों में पिछले 48 घंटों में जहरीली शराब पीने से छह लोगों की मौत हो गई। जहरीली शराब पीने के बाद गांववालों ने शवों को अंतिम संस्कार कर दिया। जहरीली शराब से मरनेवालों में अजय यादव, प्रभाकर गुप्ता, रामदेव यादव, लोहा सिंह, शक्ति सिंह, शैलेंद्र यादव शामिल हैं। भले ही प्रशासन ने अबतक मौत की वजह जहरीली शराब पीना नहीं बयाया, लेकिन मृतकों के परिजनों ने स्प,्ट कहा कि मौत दहरीली शराब से हुई।

Indian Express रैंकिंग में तेजस्वी से नीचे लुढ़क गये नीतीश

बेगूसराय के बखरी थाना के गोढ़ियारी गांव में भी जहरीली शराब से लोगों के मरने की सूचना है। यहां दो लोगों की मौत हुई है। मृतकों में राजकुमार सहनी और सकलदेव चौधरी शामिल हैं।

उधर, विपक्ष ने घटना के बाद दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। तेजस्वी यादव ने कहा- शब्द नहीं है, क्या कहूं। शराबबंदी वाले बिहार में जहरीली शराब पीने से आठ लोगों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को तथ्यों से अवगत कराते हैं, तो वह आगबबूला हो जाते हैं। दोषी ्धिकारियों पर कार्रवाई की बात करते हैं, तो वह भ्रष्ट अधिकारियों को बचाने में लग जाते हैं।

राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने कहा कि गजब संयोग है कि जब-जब मुख्यमंत्री शराबबंदी पर समीक्षा बैठक करते हैं, तब-तब ऐसी हृदय विदारक घटनाएं हो जाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*