जेल से स्वराज मिला है, जेल जाने से न डरें : लालू

जेल से स्वराज मिला है, जेल जाने से न डरें : लालू

उत्तर बिहार के नेताओं के प्रशिक्षण शिविर में बोले लालू, बिहार में कब किसकी हत्या हो जाए, कहना कठिन है। जेल जाने से न डरें। जेल से ही स्वराज मिला था।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये उत्तर बिहार के नेताओं को संबोधित करते लालू प्रसाद

आज राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने उत्तर बिहार के जिला-प्रखंड अध्यक्षों के प्रशिक्षण शिविर को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार की हालत खराब है। पंचायत चुनाव हो रहा है। लगातार हत्याएं हो रही हैं। कब किसकी जान चली जाए, कह नहीं सकते। उत्तर बिहार की जनता बाढ़ से बर्बाद हो रही है। अभी नींव ठीक भी नहीं कर पाते कि घर बह जाता है, गिर जाता है। रोजगार के लिए दूसरे प्रदेश में जाना पड़ता है। उन्होंने कहा कि जनता पर अत्याचार हो, तो तुरत पहुंचिए। जेल जाने से न डरें। जेल से ही स्वराज मिला है।

राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने कहा बिहार जातीय जनगणना साधारण मांग नहीं है। नीतीश कुमार ने कहा था कि जो दल बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देगा, हम उसका समर्थन करेंगे। लेकिन अब वे भाजपा के साथ हैं।

लालू प्रसाद ने संगठन के महत्व पर काफी कुछ कहा। टिकट वितरण पर कहा कि नीचे के संगठन का काम है कि छानकर नाम भेजिए। पार्टी देखेगी। लेकिन नहीं हो पाता है। चुनाव आता है, तो भीड़ जुटना शुरू हो जाता है।

लालू प्रसाद ने कहा कि नीतीश कुमार ज्यादा दिन मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे। यह सरकार टिकनेवाली नहीं है। जनता ने तो राजद को जिता ही दिया था। कुछ सीटों पर हमारे वोट की गिनती ही नहीं की गई। पोस्टल वोट शिक्षकों के थे, जो हमें मिले थे। हमें बहुत खुशी है कि तेजस्वी के नेतृत्व में पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया। आज पार्टी सबसे बड़ी पार्टी है। उन्होंने उपचुनाव में भी जीत का मंत्र बताया। कहा, सबके बीच जाएं। हरे रंग की टोपी भी पहनें।

लालू ने याद किया कि किस प्रकार भोलाराम तूफानी को मंत्री बनाया था। कैसे उन्हें पहली बार हेलिकाप्टर पर भेजा। लालू प्रसाद 26 मिनट तक बोले। उन्होंने कहा, वे जल्द बिहार आएंगे।

Lakhimpur : पटना में BYC ने योगी-मोदी का फूंका पुतला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*