नाराज जामिया छात्रों ने क्यों चलाया #TejashwiChuppiTodo का ट्रेंड

जामिया के छात्र तेजस्वी यादव से खासे नाराज हैं और उन्होंने अपनी नाराजगी #TejashwiChuppiTOdo ट्विटर पर ट्रेंड करा कर जाहिर की है. आखिर वे नाराज क्यों हैं?

Jamia के छात्र तेजस्वी से नाराज

जामिया के छात्रोंने एक प्रेस रीलीज जारी कर तेजस्वी यादव से नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि वह गोपालगंज हत्या के बाद अपने 80 विधायकों के साथ सड़क पर आ गये. लेकिन नागरिकता कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे जामिया छात्रों की लगातार हो रही गिरफ्तारी पर चुप हैं.

प्रेस रीलीज में कहा गया है कि जामिया के शोध छात्र मीरान हैदर, जो दिल्ली राजद युवा के प्रदेश अध्यक्ष हैं उन्हें जेल भेजा चुका है. मीरान एनटी सीएए प्रोटेस्ट का चेहरा हैं. उनके ऊपर दँगा भड़काने का झूठा आरोप है।

बिहार के सिवान जिला के बड़हड़िया ब्लॉक के निरकी छपरा गाँव के रहने वाले मीरान की स्कूल से लेकर रिसर्च तक कि पढ़ाई जामिया से ही हुई है। वर्तमान में वह राष्ट्रीय जनता दल युवा दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष है।


जामिया मिल्लिया इस्लामिया में बिहार से आने वाले छात्रों में राजद के नेता और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को लेकर काफी रोष है। क्योंकि राजद की तरफ़ से दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष की गिरफ्तारी के बाद अबतक एक भी बयान नहीं आया है।

CAA-NRC Protest जामिया के प्रदर्शनकारियों पर चलाई थी पुलिस ने लाठियां

लॉकडाउन के बावजूद तेजस्वी यादव गोपालगंज के एक परिवार की हत्या के बाद पूरे विधायकों के साथ सड़क पर निकलकर मार्च करते है लेकिन मुस्लिम छात्रों की गिरफ्तारी पर चुप्पी साध लेते है।

विज्ञप्ति में हा गया है कि छात्रों का मानना है कि बिहार का मुसलमान एक मुश्त होकर राजद के पक्ष में मतदान करता है। इसके बावजूद तेजस्वी मुखर होकर मुसलमानों के मुद्दा पर बोलने से कतराते है। इसी को मुद्दा बनाकर छात्रों ने ट्विटर पर #TejashwiChuupiTodo हैशटैग से एक कैंपेन चलाया है। यह हैशटैग कई घण्टों तक टॉप फाइव में ट्रेंड करता रहा।


जामिया के इन छात्रों का मानना है कि यदि एक प्रदेश के अध्यक्ष के मुद्दा पर तेजस्वी मुखर नहीं है तब आम कार्यकर्ता राजद से क्या उम्मीद करे? इसलिए छात्रों ने कैंपेन के जरिये तेजस्वी की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए आगामी चुनाव को लेकर सावधान किया। छात्रों की माँग है कि मीरान हैदर सहित मुसलमानों की लीनचिंग, CAA आंदोलन से दूरी और छात्रों की गिरफ्तारी पर तेजस्वी अपनी चुप्पी तोड़े वरना इसका नकारात्मक असर राजद की राजनीति पर पड़ेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*