फिलिस्तीन पर इसराइली जुल्म के खिलाफ JDU ने खोला मोर्चा

फिलिस्तीन पर इसराइली जुल्म के खिलाफ JDU ने खोला मोर्चा

बिहार प्रदेश जदयू के वरिष्ठ नेता मेजर एकबाल हैदर खान

फिलिस्तीन के लगातार हमलें में 250 से ज्यादा मुसलमान के शहीद होने पर जनता दल युनाइटेड के नेताओं ने इसराइल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

बिहार प्रदेश जदयू के वरिष्ठ नेता मेजर एकबाल हैदर खान ने कहा है कि जिस तरह इसराइल फिलिस्तीन के निहत्थे लोगों पर हमला कर रहा है वह जुल्म की इंतहा है. उन्होंने कहा कि इस हमले में दूध पीते बच्चे और मासूम औरतों को भी नहीं बख्शा जा रहा है. एकबाल हैदर ने कहा इसराइल की इस दरिंदगी से मानवता शर्मशार हो रही है और मानवाधिकार का घोर उल्लंघन हो रहा है. उन्होंने कहा कि इस हमले को जायज ठहराने वाले अमेरिका का कुरूप चेहरा बेनकाब हो गया है.

इसराइली के खिलाफ भारतीय मुसलमानों में भारी गुस्सा

एकबाल हैदर ने कहा कि फिलिस्तीनियों पर इसराइल के हमले के खिलाफ पूरी दुनिया के इंसाफ पसंद लोगों के साथ साथ भारत के मुसलमानों भारी आक्रोश है. उन्होंने उम्मीद जताई कि इस मामले पर दीगर सियासी पार्टियां भी अपना पक्ष रखेंगी.

जदयू नेता त्यागी बोले, भारत फ़िलिस्तीन के साथ

गौरतलब है कि इसस पहले जनता दल यू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने भी इसराइली हमले की कड़ी आलोचना करते हुए कहा था कि फिलिस्तीनियों पर किये जा रहे हमले मानवता पर हमला है और हम इसकी सख्त आलोचना करते हैं.

फिलिस्तीन पर हमले के बाद यहूदियों पर बढ़े 438 % वारदात

गौरतलब है कि फिलिस्तीन पिछले ग्यारह दिनों से गजा के छेत्र में हवाई हमला कर रहा है इससे लाखों लोग बेघर हो गये हैं और हजारों लोग जख्मी हो चुके हैं.

एकबाल हैदर खान ने कहा कि मस्जिद ए अक्सा मुसलमानों का पहला किबला है. जिसमें रमजान में नमाज पढ़ने से इसराइली पुलिस द्वारा रोका जाना मुसलमानों की धार्मिक आजादी पर हमला था. फिलिस्तीन के मुलमानों के साथ पूरी दुनिया के न सिर्फ मुसलमान बल्कि मानवाधिकारों की चिंता करने वाले करोड़ों लोग खड़े हैं.

गौरतलब है कि आधिकारिक तौर पर भारत सरकार ने यूएन में स्पष्ट रूप से कहा है कि वह इसराइल की विस्तारवादी नीति के खिलाफ है। साथ ही उसने इसराइली बमबारी की आलोचना भी की है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*