JDU ने NHRC के अध्यक्ष पूर्व जस्टिस मिश्रा का उड़ा दिया चिथड़ा

JDU ने NHRC के अध्यक्ष पूर्व जस्टिस मिश्रा का उड़ा दिया चिथड़ा

JDU ने NHRC के अध्यक्ष पूर्व जस्टिस अरुण मिश्रा पर जबरदस्त हमला किया। यहां तक कहा कि पूर्व जस्टिस मिश्रा प्रधानमंत्री मोदी का भक्त बताया।

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग पर आज से पहले किसी दल ने इतना बड़ा हमला नहीं किया होगा। जदयू ने आयोग के अध्यक्ष पूर्व जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी भक्त कहा। यह भी कहा कि एनएचआरसी को भाजपा की कुठपुतली बना दिया गया है।

जदयू के दो प्रवक्ताओं डाॅ. सुनील कुमार सिंह एवं डाॅ. रणवीर नंदन ने कहा कि जून, 2021 में नियुक्त किए गए नए अध्यक्ष जस्टिस अरुण कुमार मिश्र ना केवल प्रधानमंत्री मोदी के भक्त हैं बल्कि जस्टिस रहते हुए वर्ष 2020 में एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन में मोदी को विश्व का सबसे दूरदर्शी नेता एवं वैश्विक स्तर के विजन से लैस व्यक्ति बताया था।

केंद्र सरकार पर मानवाधिकार आयोग के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए जदयू प्रवक्ताओं ने कहा कि बिहार में जहरीली शराब से हुई मृत्यु की घटना में आयोग द्वारा बिहार सरकार से रिपोर्ट मांगने के 24 घंटे के अन्दर ही अपनी जांच टीम भेज दिया। जबकि आयोग ने बिहार सरकार को रिपोर्ट सौंपने के लिए चार हफ्ते का वक्त दिया था, जो बेहद शर्मनाक है।

जदयू ने केंद्र की भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग जैसी स्वायत्त संस्था की स्वायत्ता पर चोट कर इसका गैर-भाजपा शासित राज्यों के खिलाफ दुरूपयोग कर रही है। जदयू प्रवक्ताओं ने ना सिर्फ जहरीली शराब के कारण विभिन्न भाजपा शासित राज्यों में होने वाली मौतों के प्रति छभ्त्ब् के उदासीन रवैये का हवाला दिया बल्कि अन्य अप्रिय दुर्घटनाओं के कारण होने वाली मौतों के प्रति छभ्त्ब् के पक्षपातपूर्ण रवैये का भी उदाहरण दिया।

प्रवक्ताओं ने गुजरात, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड जैसी भाजपा शासित राज्यों में हुई कई घटनाओं का उल्लेख किया, जिसमें सैंकड़ों लोगों की जान गई, लेकिन कहीं भी NHRC की टीम जांच के लिए नहीं गई। इसके अलावा गुजरात की मोरबी पुल दुर्घटना, किसान आन्दोलन, जाट आन्दोलन हरियाणा जैसी कई मानवाधिकार उल्लंघन की घटनाओं का जिक्र किया, जिसमें मानवाधिकार आयोग ने कोई संज्ञान नहीं लिया । किसान आन्दोलन के दौरान छभ्त्ब् ने तो सैंकड़ों किसानों की हुई मृत्यु पर जांच करने के बजाय बेशर्मी से किसानों के आन्दोलन के कारण आमजन को हुई असुविधा की जांच की।

गलियारों की बात : सिंगापुर से आते ही लालू सौपेंगे तेजस्वी को कमान