जिसके मोदी फॉलोअर थे, वह कोविड से मरा, बहन ने क्या किया

जिसके मोदी फॉलोअर थे, वह कोविड से मरा, बहन ने क्या किया

यूपी से लगातार दिल दहला देनेवाली खबरें आ रही हैं। गंगा में शव मिल रहे हैं। अब एक आरएसएस समर्थक ऐसे शख्स की कहानी सामने आई है, जो रौंगटे खड़े कर देती है।

नाम है अमित जायसवाल। उसकी कार के पिछले शीशे पर प्रधानमंत्री मोदी की बड़ी तस्वीर हमेशा लगी रहती थी। वह खुद को मोदी भक्त कहता था। खुद प्रधानमंत्री मोदी सोशल मीडिया में उसके फॉलोअर थे। अमित कोविड पॉजिटिव हो गए। उनका इलाज प्राइवेट अस्पताल में चल रहा था।

अमित का स्वास्थ्य बिगड़ता गया। उसके परिवार को भरोसा था कि प्रधानमंत्री कुछ करेंगे। इलाज के दौरान उन्हें रेमडेसिविर दवा की जरूरत हुई। अमित की बहन ने प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को टैग कर मदद मांगी, लेकिन घंटे-दिन गुजरते गए, पर मदद न आई। अंततः उनकी जान चली गई।

अमित की बड़ी बहन लगातार इलाज में साथ थी। उन्होंने ही अमित के ट्विटर हैंडल से प्रधानमंत्री को टैग करते हुए बड़ी उम्मीद के साथ मदद मांगी थी। जब मदद नहीं मिली और भाई की जान नहीं बची, तो उन्होंने अमित की कार के शीशे पर लगे मोदी के पोस्टर को फाड़ दिया। कहा- वे प्रधानमंत्री मोदी को कभी माफ नहीं कर सकते।

पप्पू को गिरफ्तार करने पर किसने सुनी हिटलर के घोड़ों की टाप

इस पूरी कहानी को द प्रिंट ने प्रकाशित किया है। फातिमा खान ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि अमित को सामने कोई व्यक्ति प्रधानमंत्री मोदी की आलोचना नहीं कर सकता था। अगर किसी ने आलोचना की तो, अमित लड़ने को तैयार हो जाते थे।

पप्पू को कुछ हुआ, तो एंबुलेंस चोरों को चौराहे पर ला दूंगी : रंजीता

उधर, आज एक अखबार में यूपी में गंगा में बहते शवों की खबर आने से यूपी सरकार के सबकुछ नियंत्रित होने के दावे पर सवाल उठ गया है। हाईकोर्ट ने भी बेहद कड़े शब्दों में यूपी सरकार पर सवाल उठाए हैं। इसके बाद से सोशल मीडिया पर योगी आदित्यनाथ को बेस्ट सीएम बताने की होड़ लगी है, लेकिन सच्चाई कुछ और बयां कर रही है। (इनपुट द प्रिंट से)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*