झामुमो ने किया लोकतंत्र को शर्मसार : भाजपा

झामुमो ने किया लोकतंत्र को शर्मसार : भाजपा

 

भाजपा (BJP) प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने झामुमो (JMM) पर आरोप लगाते हुए कहा कि गरीब आदिवासी-मूलवासियों के हक की झूठी बातें करने वाले झामुमो (JMM) ने टिकट की बोली लगाकर लोकतंत्र को शर्मशार कर दिया है.

पटना से रवि कांत की रिपोर्ट

झामुमो (JMM) ने टिकट की बोली लगाकर लोकतंत्र को शर्मशार कर दिया है.

 

 

 

आपको बता दें कि झामुमो (JMM) ने टिकट के लिए 51 हजार का आवेदन शुल्क रखा है जिसपर बीजेपी ने पार्टी पर आरोप लगते हुए उसे ठगों की पार्टी करार दिया है. भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने गुरुवार को प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि झामुमो ने टिकट के लिए आवेदन शुल्क 51 हजार रखकर आदिवासी-मूलवासियों ठगने का काम किया है.

 

हेमंत सोरेन ने लालू से की मुलाकात 

उन्होंने कहा कि झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन ने जिन गरीबों के लिए आज से 50 वर्ष पूर्व लड़ाई लड़ी थी, आज उन्हीं गरीब आदिवासी-मूलवासियों के हक को झामुमो मारने का काम कर रहा है.

 

गरीबो से झामुमो को नहीं है कोई मतलब : बीजेपी 

आगे उन्होंने कहा कि झामुमो नहीं चाहती कि आदिवासी-मूलवासी समाज में आगे बढे और राजनितिक रूप से सशक्त हो.

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि गरीब आदिवासी-मूलवासियों के उत्थान से जेएमएम को कोई मतलब नहीं है. अभी झारखंड मुक्ति मोर्चा 51 हजार का भारी भरकम शुल्क आवेदन के लिए वसूल रहा है. टिकट मिलने के बाद पता नहीं कितने लाख रुपए लिए जाएंगे.

 

पहला दिन रास नहीं आया रघुवर दास को, काफिले पर लोगों ने फेके जूते-चप्पल

महागठबंधन पर कटाक्ष करते हुए प्रतुल ने कहा कि जनता का महागठबंधन से भरोसा उठ चुका है. नक्सलवाद व भ्रष्टाचार की आग में प्रदेश को झोंकने वाले विपक्षी ठगबंधन की स्थिति आने वाले दिनों में स्पष्ट हो जाएगी.

 

उन्होंने कहा कि हेमंत सोरेन और बाबूलाल मरांडी ने सिर्फ सत्ता प्राप्ति के लिए एक-दूसरे के लीडरशिप को मानने से इनकार किया. इन दोनों के लिए चुनाव सिर्फ सत्ता प्राप्त करने का जरिया है. उन्होंने कहा कि चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू यादव से हाथ मिलाना हो या फिर परिवारवाद और भ्रष्टाचार की जननी कांग्रेस के साथ खड़े होना, सत्ता प्राप्ति के लिए झामुमो कुछ भी करने को तैयार दिख रहा है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*