कालीचरण गिरफ्तार, लगी देशद्रोह की धारा, BJP सरकार को आपत्ति

कालीचरण गिरफ्तार, लगी देशद्रोह की धारा, BJP सरकार को आपत्ति

गांधी को गरियाने व हत्यारे गोडसे की जय करने वाला हिंसा का पुजारी भगवाधारी कालीचरण गिरफ्तार, देशद्रोह की धारा भी लगी। भाजपा सरकार को आपत्ति।

कुमार अनिल

जो गाली दे, हिंसा-नफरत फैलाए वह धर्म नहीं हो सकता। और ऐसा करनेवाला धार्मिक नहीं हो सकता। धर्म तो वही है, जो सबसे प्रेम करना सिखाए और धार्मिक वही है, जो प्रेम-भाईचारा का प्रचार करे।

हरिद्वार के बाद रायपुर में एक धर्म संसद, जिसे अधर्म संसद कहना ज्यादा उचित होगा, में महात्मा गांधी को गाली दी गई। गोडसे की हिमायत की गई। ऐसा करनेवाले कालीचरण को छत्तीसगढ़ पुलिस ने आज मध्य प्रदेश के खजुराहो से गिरफ्तार कर लिया। अब उस पर देशद्रोह की धारा 124 ए भी लगा दी गई है। इससे भक्तों के होश उड़ गए हैं। एफआईआर के बाद से ही कालीचरण यहां छिपा था। चर्चा है कि मध्य प्रदेश के एक भाजपाई मंत्री ने गिरफ्तारी से बचाने के लिए उसे यहां छिपाया था। कालीचरण की गिरफ्तारी के बाद मध्य प्रदेश भाजपा सरकार ने आपत्ति जताई है। भाजपा सरकार का कहना है कि छत्तीसगढ़ पुलिस ने गिरफ्तारी में नियमों का पालन नहीं किया।

कालीचरण की गिरफ्तारी के बाद से ही सोशल मीडिया पर गांधी को गाली देने, हिंसा का पक्ष लेने के मैसेज डाले जा रहे हैं। ऐसे लोग किस दल के समर्थक हैं, यह कहने की जरूरत नहीं। ट्विटर पर कालीचरण को महाराज बताया जा रहा है। हिंदू राष्ट्र बनाने का एलान किया जा रहा है।

मंच पर गांधी को गाली देते समय हाथ लहरा कर जोश दिखानेवाले कालीचरण की सिट्टी-पिट्टी गुम हो गई, जब पुलिस ने उसे पकड़ा। सत्ता संरक्षण ही इस दौर में हिंसक भाषणों के उभार का कारण है। यह सत्ता संरक्षण ही देश को खतरनाक रास्ते पर ले जा रहा है, जहां लोकतंत्र, संविधान की कोई जगह नहीं होगी। यह भी स्पष्ट है कि मंच पर अल्पसंख्यकों का कत्लेआम करने की धमकी देनेवाले भीतर से बहुत कायर हैं, तभी तो गिरफ्तारी होते ही होश उड़ जाते हैं।

नीतीश के मित्र बोले पेट्रोल से सस्ती शराब देंगे, राजद का हमला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*