काशी विद्यापीठ में परिषद का सफाया, सपा के छात्र जीते

काशी विद्यापीठ में परिषद का सफाया, सपा के छात्र जीते

पश्चिम यूपी में किसान आंदोलन जारी है। अब पूर्वी यूपी में काशी भी कुछ कह रही है। काशी विद्यापीठ छात्र संघ चुनाव में विद्यार्थी परिषद का सफाया हो गया है।

कुमार अनिल

वाराणसी स्थित काशी विद्यापीठ छात्र संघ के चुनाव में आरएसएस से जुड़े अखिल भारतीय विद्यार्थी को भारी झटका लगा है। वह किसी भी प्रमुख पद पर जीत हासिल नहीं कर सकी।

यहां छात्र संघ चुनाव में समाजवादी पार्टी के छात्र नेता विमलेश यादव ने सबसे महत्वपूर्ण अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की है। इसके बाद उपाध्यक्ष और महामंत्री पदों पर कांग्रेस से जुड़ी एनएसयूआई के छात्र नेताओं संदीप पाल और प्रफुल्ल पांडेय ने जीत हासिल की है।

इस जीत का उत्तर प्रदेश की राजनीति में कितना महत्व है, इसे इस बात से समझा जा सकता है कि कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने छात्र नेताओं की जीत पर बधाई दी है। उन्होंने इस जीत को रोजगार के लिए चल रहे अभियान से जोड़ते हुए कहा- युवाओं द्वारा रोजगार मांगने की हुंकार भरने के दिन ही वाराणसी स्थित महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ छात्रसंघ चुनाव का रिजल्ट युवा मन की एक झलक है।

प्रियंका गांधी ने कहा, इस जीत का अर्थ है युवाओं ने मुद्दामूलक राजनीति पर मुहर लगाई है। एनएसयूआई के सभी विजयी छात्र संघ प्रतिनिधियों को हार्दिक बधाई, शुभकामनाएं।

जनता स्कूल में तेजस्वी की साइकिल दौड़ी, भाजपा का बंक

अखिलेश यादव के नेतृत्ववाली समाजवादी पार्टी ने कहा-पहले वाराणसी शिक्षक स्नातक एमएलसी सीट पर सपा की जीत का परचम लहराने के बाद युवाओं ने दिया काशी विद्यापीठ के छात्र संघ चुनाव में सपा का साथ।

पार्टी ने कहा- अध्यक्ष पद पर छात्र सभा के विमलेश यादव की जीत दरसाती है अखिलेश यादव में विश्वास। सभी छात्रों को धन्यवाद, विजयी को शुभकामनाएं।

असेम्बली में अगड़ी जाति के पत्रकारों के वर्चस्व के खिलाफ फूका बिगुल

सपा और कांग्रेस के साथ ही वाम दलों ने भी इस जीत पर खुशी व्यक्त की है। भाकपा माले के पॉलित ब्यूरो के सदस्य धीरेंद्र झा ने ट्विट किया- बनारस से आया मौसम बदलने का संदेश। काशी विद्यापीठ के छात्रों ने लूट-झूठ की सरकार और संघी विचारधारा के प्रतिनिधि एबीवीपी को हराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*