कौन हैं प्रत्यय अमृत, किसने उन्हें रूपेश हत्याकांड में लपेटा

कौन हैं प्रत्यय अमृत, किसने उन्हें रूपेश हत्याकांड में लपेटा

रूपेश सिंह हत्याकांड में पहली बार किसी नेता ने प्रत्यय अमृत पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कौन हैं प्रत्यय अमृत और किस नेता ने आरोप लगाए?

कुमार अनिल

इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या का मामला थम नहीं रहा है। आज पहली बार बिहार के एक नेता ने रूपेश हत्याकांड में बिहार के एक सीनियर आईएएस अधिकारी प्रत्यय अमृत पर गंभीर आरोप लगाए हैं। आरोप लगानेवाले नेता हैं पूर्व सांसद और जाप के अध्यक्ष पप्पू यादव।

पप्पू यादव ने आज बयान जारी करके कहा कि प्रत्यय अमृत ने सरकारी नियमों के खिलाफ पांच महिलाओं को विदेश भेजा। क्या सरकार के पास कोई कुबेर का खजाना है कि जनता के पैसों को बर्बाद किया गया। विदेश जाने वाली पांच महिलाओं में एक अंजलि आनंद की मौत एक वर्ष पूर्व हुई, जिसे आत्महत्या कहा गया, लेकिन उसकी कभी जांच नहीं हुई और बिना पंचनामे के ही अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस मौत की भी जांच होनी चाहिए क्योंकि रुपेश की हत्या के राज को खोलने के लिए परत दर परत जांच होनी बहुत जरूरी है।

जिसने बिहार की सफलता की सड़क बनाई

पप्पू यादव ने जिस पर ये आरोप लगाए हैं, वह कोई साधारण व्यक्ति नहीं हैं, बल्कि राज्य के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी हैं। छह महीना पहले जुलाई में बिहार में कोनिड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे थे। बीमारी पर नियंत्रण करना मुस्किल हो रहा था। ऐसे समय बिहार सरकार ने तत्कालीन स्वास्थ्य सचिव उदय सिंह कुमावत को तत्काल प्रभाव से हटाते हुए प्रत्यय अमृत को स्वास्थ्य सचिव की जिम्मेवारी दी।

सबसे पहले प्रत्यय अमृत उस वक्त सुर्खियों में आए, जब उन्हें पुल निर्माण निगम का मैनेजिंग डायरेक्टर बनाया गया। यहां उन्होंने कई प्रयोग किए, बार-बार इन कार्यों से जुड़े लोगों से बात करके पूरी प्रक्रिया को सरल बनाया। सड़कों का जाल बिछाने में इनकी खास भूमिका रही। तब इंडिया टुडे ने लिखा था-प्रत्यय अमृत, जिन्होंने बिहार की सफलता की सड़क बनाई। लगातार इनोवेटिव तरीके से कार्य करने के कारण इन्हें पीएम अवार्ड फॊर एक्सेलेंस इन पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन का सम्मान मिला। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ग्लोबल सम्मिट में भी इनकी सराहना की।

हजारों करोड़ के टेंडर में किसने रूपेश से लिया पैसा

हालांकि कई बार विवादों में भी रहे। राजद के एक विधायक के साथ इनकी हुई बातचीत वायरल हुई थी, जिसमें वे कह रहे हैं कि जल्दी बोलिए, मेरे पास समय नहीं है। जाहिर है प्रत्यय अमृत प्रदेश के सबसे महत्वपूर्ण उन अधिकारियों में हैं, जिन पर खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भरोसा करते हैं।

अब ऐसे खास अधिकारी पर पूर्व सांसद व जाप अध्यक्ष पप्पू यादव ने गंभीर आरोप लगाए हैं। अब देखना है कि जाप इस मुद्दे को किस प्रकार आगे बढ़ाता है। यह भी देखना है कि इस आरोप पर सरकार क्या कहती या करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*