खेल शुरू, हजारों के साथ व्हील चेयर पर निकलीं ममता

खेल शुरू, हजारों के साथ व्हील चेयर पर निकलीं ममता

आज किसान दिवस पर ममता बनर्जी व्हील चेयर पर बैठकर सड़क पर उतरीं। पीछे दसियों हजार लोग नारे लगाते। सड़क की दोनों ओर देखने वालों की भीड़। भाजपा किंकर्तव्यविमूढ़!

कुमार अनिल

आज से 14 वर्ष पहले भूमि अधिग्रहण के खिलाफ नंदीग्राम में किसानों का बड़ा आंदोलन हुआ था। आज ही के दिन वहां पुलिस फायरिंग में 14 किसान शहीद हो गए थे। ममता बनर्जी उस आंदोलन की अगुवाई कर रही थीं। वे हर साल आज कृषक दिवस मनाती हैं, पर पहली बार वे व्हील चेयर पर सड़क पर उतरीं।

हिंदी का एक कठिन शब्द है-किंकर्तव्यविमूढ़। इसका अर्थ होता है वह स्थिति, जिसमें समझ में न आए कि क्या करें। आज भाजपा किंकर्तव्यविमूढ़ की स्थिति में पंस गई है। उसे समझ में नहीं आ रहा है कि वह ममता के इस नए दांव का किस तरह जवाब दे। हालांकि सोशल मीडिया पर कुछ लोग इसे भी नाटक कहते नजर आ रहे हैं, पर वे भी जानते हैं कि नाटक कहना बिल्कुल नाकाफी है। नाटक कह कर वे ममता के प्रति सहानुभूति को कम नहीं कर सकते।

प्रधानमंत्री मोदी की आवाज का उन्हीं के खिलाफ गजब इस्तेमाल

ममता बनर्जी ने कहा कि वे रुकेंगी नहीं, बल्कि व्हील चेयर पर ही चुनाव प्रचार करेंगी। ममता के सड़क पर उतरते ही ममता इज बैक #MamataIsBack ट्रेंड करने लगा। क्रिकेटर और टीएमसी प्रत्याशी मनोज तिवारी ने अंग्रेजी में लिखा-वह फाइटर हैं। वह निडर हैं। वे किसी बाउंसर से घबराकर डक नहीं करतीं, बल्कि गेंद को मैदान के बाहर पहुंचा देती हैं- छक्का मार कर। कप्तान आपका (ममता बनर्जी का) स्वागत है। खेल शुरू हो चुका है।

RLSP का JDU में विलय, उपेंद्र कुशवाहा ने कर दिया ऐलान

एक अन्य ने ट्विट किया- स्ट्रीट फाइटर दीदी इज बैक। अरुप रॉय ने लिखा-चित्र बता रहा है ममता कितनी हिम्मतवाली हैं। तपन देबसिंघा ने दीदी को कहा-रेजिलेंट फाइटर। ऐसा योद्धा जो घायल होने पर भी उठ खड़ा हो। चुनौती स्वीकार करे और विपरीत स्थितियों को अपने अनुकूल कर ले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*