चार साल के लम्बे इंतजार के बाद khuda Bakhsh Oriental Public Library को मिल गया डॉयरेक्टर

चार साल के लम्बे इंतजार के बाद विश्वप्रसिद्ध खुदा khuda Bakhsh Oriental Public Library के निदेशक पद पर नियुक्ति का मामला तय हो गया  है. प्रधान मंत्री कार्यालय सूत्रों का कहना है कि Dr.Shayesta Bedar जल्द ही पटना स्थित इस लाब्रेरी के निदेशक पद को ग्रहण करेंगी.

 Khuda Bakhsh Oriental Public Library अपने 21 हजार रेयर पांडुलिपियों और 2.5  लाख से अधिक पुस्तकों के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है. यहां विदेशों से बड़ी तादाद में रिसर्च के लिए आते रहते हैं. इस लाइब्रेरी की शुरुआत 1891 में मौलाना खुदा बख्श ने की थी.

Dr. Shayesta Bedar फिलवक्त अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की मौलाना आजाद लाइब्रेरी में असिस्टेंट लाइब्रेरियन के पद पर कार्यरत हैं. शाइस्ता बेदार की एक और पहचान उनके पिता आबिद रजा बेदार से जुड़ा है. आबिद रजा बेदार खुदा बख्श लाइब्रेरी के डायरेक्टर रह चुके हैं.

Dr. Shayesta के पिता भी रह चुके हैं डायरेक्टर

शाइस्ता बेदार ने नौकरशाही डॉट कॉम से बातचीत में अपने नियुक्ति की पुष्टि करते हुए बताया है कि अनौपचारिक रूप से उन्हें सूचना मिली है कि उन्हें नियुक्त किया गया है. उन्होंने कहा कि  उन्हें अपनी नियुक्ति की औपचारिक सूचना का इंतजार है. Dr Shayesta Bedar ने मास्टर इन लाइब्रेरी साइंस के अलावा एमए में पीएचडी की उपाधि ले रखी है.

यह भी पढ़ें-  चार वर्षों से पूर्णकालिक निदेशक को तरसते खुदाबख्श लाइब्रेरी को जगी थोड़ी उम्मीद

गौरतलब है कि इस लाब्रेरी का निदेशक पद पिछले चार सालों से खाली पड़ा है. इस कारण लाइब्रेरी की काफी गतिविधियां अटकी पड़ी हैं. लाइब्रेरी के निदेशक पद की नियुक्ति के लिए काफी समय से मांग की जाती रही है.

पढ़ें-  Khuda Baksh Khan जिन्होंने दिया दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ग्रंथालय

आल इंडिया मुस्लिम मज्लिस ए मुशावरत के बिहार चेप्टर के महासचिव अनवारुल होदा ने इसके लिए बाजाब्ता अभियान चलाया. इसके अलावा उन्होंने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को ट्विट  भी किया.

अनवारुल होदा ने बताया कि प्रधान मंत्री कार्यालय ने शाइस्ता बेदार के नाम पर अपनी मुहर लगा दी है. इस संबंध में जल्द ही एक पत्र खुदाबख्श लाइब्रेरी के मैनेजिंग कमेटी को भेजा जाने वाला है.

इस बीच अनेक लोगों ने राज्यपाल से भी इस संबंध में मुलाकात की.राज्यपाल से इस सिलसिलेम में पूर्व आईएएस अफसर एमए इब्राहिमी, चिकित्सक एमए हई और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आजमीबारी ने मुलाकात कर आग्रह किया कि वह निदेशक की नियुक्ति के लिए पहल करें. राज्यपाल ने शिष्टमंडल को भरोसा दिलाया कि वह इस दिशा में काम करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*