किसानों के पक्ष में कल मानव श्रृंखला, महागठबंधन ने बनाई रणनीति

किसानों के पक्ष में कल मानव श्रृंखला, महागठबंधन ने बना ली रणनीति

किसानों पर दमन के खिलाफ और बिहार के बदहाल किसानों की आवाज बुलंद करने के लिए कल महागठबंधन मानव श्रृंखला बनाएगा। आज पूरी रणनीति बना ली गई।

आज पटना में महागठबंधन में शामिल सभी दलों के प्रमुख नेताओं की बैठक हुई। बैठक में 30 जनवरी को 30 मिनट के लिए बिहार के हर जिले में मानव श्रृंखला बनाने के कार्यक्रम को अंतिम रूप दे दिया गया। बैठक में राजद की तरफ से तेजस्वी यादव, प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक और आलोक मेहता, कांग्रेस की तरफ से अजीत शर्मा, माले के केडी यादव और धीरेंद्र झा, सीपीएम के प्रदेश सचिव अवधेश कुमार और गणेश शंकर सिंह तथा सीपीआई के रामबाबू शामिल हुए।

Singhu Border पर किसानों पर हमला, पुलिस मूकदर्शक बनी रही

सीपीएम के राज्य सचिव अवधेश कुमार ने बताया कि बैठक में सभी दलों के नेताओं ने एक स्वर में दिल्ली में किसानों पर दमन की कड़ी निंदा की और कहा कि किसानों पर हमला भाजपा प्रायोजित है।

महागठबंधन ने राज्य के किसानों की बदहाली के लिए जदयू-भाजपा सरकार को जिम्मेवार बताया। इसी सरकार ने 2006 में राज्य में पहले से चल रही एपीएमसी व्यवस्था को समाप्त किया था, जिसके बाद किसानों को औने-पौने दाम पर अपनी उपज व्यापारियों को बेचनी पड़ रही है। महागठबंधन ने एपीएमसी व्यवस्था को फिर से चालू करने की मांग की। महागठबंधन ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी सवाल किया कि देशभर के किसानों पर दमन किया जा रहा है, लेकिन वे चुप क्यों हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*