किसानों ने संसद मार्च स्थगित किया, अब 30 को रैली, भूख हड़ताल

किसानों ने संसद मार्च स्थगित किया, अब 30 को रैली, भूख हड़ताल

दिल्ली की सीमा पर आंदोलन कर रहे किसानों ने देर शाम प्रेस कान्फ्रेंस करके संसद मार्च को स्थगित करने का एलान किया। अब 30 को रैली, भूख हड़ताल होगी।

कुमार अनिल

आज दिल्ली में संयुक्त किसान मोर्चा ने पत्रकारों से बात करते हुए 1 फरवरी को संसद मार्च के निर्णय को स्थगित कर दिया। उन्होंने कल 26 जनवरी को जो उपद्रव हुआ, उसे केंद्र सरकार की साजिश बताया। किसान नेताओं ने कहा कि पहले दिन से ही हमारे आंदोलन को बदनाम करने की कोशिश हो रही है।

किसान नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि लाल किले में किसानों के साथ पुलिसवाले सेल्फी ले रहे थे, जैसा अमेरिका के कैपिटोल में हुआ। इस देश में आरएसएस ने 15 साल पहले तक अपने दफ्तर में तिरंगा नहीं फहराया, वो संगठन जब तिरंगे के सम्मान की बात करता है, तो आश्चर्य होता है।

40 हजार पुलिसकर्मियों की नौकरी से बेदखली का परवाना जारी

कई किसान नेताओं ने बताया कि एक खास रूट में पुलिस को ढीला कर दिया गया। वहां से उन्हें लाल किला जाने दिया गया। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि 99.9 प्रतिशत रैली शांतिपूर्ण रही। उन्होंने कहा लाल किले में जहां पहले प्रधानमंत्री नेहरू ने तिरंगा फहराया, उसे छुआ तक नहीं गया।

इस बीच कांग्रेस ने 26 जनवरी को हुए हंगामे के लिए भाजपा को जिम्मेवार बताया। कांग्रेस प्रवक्ता सूरजेवाला ने प्रधानमंत्री का एक फोटो जारी किया, जिसमें वे उस शख्स के साथ दिख रहे हैं, जिस पर लाल किले में झंडा फहराने का आरोप है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*