कोयला कम है, तो इस दलित नेता को झोंक दो : भाजपा नेता

कोयला कम है, तो इस दलित नेता को झोंक दो : भाजपा नेता

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा फॉलो किए जानेवाले भाजपा नेता ने पूर्व सांसद उदित राज के फोटो के साथ लिखा-कोयला कम है, तो इस सांसद को ईंधन के रूप में उपयोग करो।

डॉ. उदित राज पर भाजपा नेता ने की जातिवादी और रंगभेद वाली टिप्पणी

कुमार अनिल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने जिस नेता को फॉलो करते हैं, उस भाजपा नेता ने पूर्व सांसद उदित राज के बारे में लिखा कि कोयला कम है, तो ईंधन की जगह इस नेता को उपयोग करो। डॉ. उदित राज काले हैं। देशभर में हो रही भाजपा की निंदा।

भाजपा की युवा शाखा भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संतोष रंजन राय ने कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद उदित राज का फोटो शेयर करते हुए यह जातिवादी और रंगभेद पर आधारित टिप्पणी की। इस भाजपा नेता को ट्विटर ने ब्लू टिक दिया हुआ है।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा- प्रिय @TwitterIndia, क्या @Dr_Uditraj के खिलाफ की गई यह टिप्पणी किसी भी तरह स्वीकार करने योग्य है? यह कई अर्थों में निंदनीय है। कृपया जरूरी कार्रवाई करें।

जनसत्ता के पूर्व संपादक ओम थानवी ने कहा-सिर्फ इसलिए नहीं कि @Dr_Uditraj दलित हैं, किसी पर रंगभेद के आधार पर ऐसी टिप्पणी संकीर्ण व घृणाभरे सोच का प्रमाण है। और एक दलित को कोयले की जगह ईंधन में झोंकने की बात? सांप्रदायिक और हिंसक ही नहीं, मानवीयता के हर पहलू को शर्मसार करने वाला सोच।

लेखक अशोक कुमार पांडेय ने लिखा-नस्लभेद और दलितों के प्रति अपमान संघ की जीन में है। एक पूर्व नौकरशाह, पूर्व एम पी और वरिष्ठ नेता श्री @Dr_Uditraj जी के लिए इस निंदनीय नस्लभेदी टिप्पणी पर क़ानूनी कार्यवाही होनी चाहिए।

लेखक और प्राध्यापक पुरुषोत्तम अग्रवाल ने कहा-कितनी घिनौनी मानसिकता से उपजी होगी यह टिप्पणी।

राजद ने कहा-प्रधानमंत्री मोदी के खास बिहार के भाजपा नेता संतोष रंजन राय ने दलित नेता उदित राज पर बेहद गंदी नस्लीय टिप्पणी करते हुए उन्हें कोयला बताया। नीतीश-भाजपा के इस संघी नेता की टिप्पणी से दलित समाज आक्रोशित है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विद्वेष फैलाने वाले इस नेता को गिरफ़्तार करे।

ट्विटर पर कई लोगों ने इसे जातिवादी, रंगभेदवादी तथा हिंसा उकसानेवाला ट्वीट माना है।

आश्चर्य है कि न तो भाजपा ने अपने इस नेता पर कोई कार्रवाई की और न ही ट्विटर ने।

आज भक्त मंडली को राजनाथ सिंह ने कर दिया दुखी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*