क्यों एक सीनियर IPS ने गरीब की बेटी को दी मुबारकबाद

क्यों एक सीनियर IPS ने गरीब की बेटी को दी मुबारकबाद

एक सीनियर IPS अधिकारी ने गैराज में काम करनेवाले एक मजदूर की बेटी को मुबारकबाद दी है। आईपीएस अधिकारी भी सामान्य नहीं हैं। अधिकारी चर्चित किताब के लेखक हैं।

कुमार अनिल

सीनियर आईपीएस अधिकारी अब्दुर रहमान ने मुंबई के निकट मुंबरा की रहनेवाली एक गरीब परिवार की बेटी को मुबारकबाद दी है। आईपीएस अधिकारी अब्दुर रहमान ने जरीन खान को मुबारकबाद दी है। जरीन ने सीए इंटरमीडिएट एक्जाम में टॉप किया है। जरीन के पिता एक गैराज में काम करते हैं। परिवार के पास अपना घर भी नहीं है। परिवार किराये के मकान में रहता है।

आईपीएस अधिकारी ने गरीब की बेटी को मुबारकबाद देकर हौसला बढ़ाया है। अभी तक किसी बड़े अखबार में जरीन के संघर्ष की कहानी नहीं छपी है। आईपीएस अधिकारी अब्दुर रहमान ने जिस तरह जरीन के संघर्ष पर मुबारकबाद दी है, उम्मीद है, अब बड़े अखबार भी जरीन की कहानी को सामने लाएंगे, ताकि कमजोर वर्ग के दूसरे छात्रों का भी हौसला बढ़े।

अब्दुर रहमान महाराष्ट्र कैडर के अधिकारी हैं। वे किताब भी लिख चुके हैं। उनकी चर्चित किताब है-डिनाएल एंड डेप्रविएशन : इंडियन मुस्लिम आफ्टर सच्चर कमीशन एंड रंगनाथ मिश्रा कमीशन रिपोर्ट। यह किताब आज के मुसलमानों की समस्या को शिद्दत के साथ उठाती है। जरीन खान की हैसलाआफजाई उनकी हाशिये पर रहे लोगों के साथ जुड़ाव और उनके प्रति लगाव को दिखाता है।

Shahnawaz बने मंत्री, भाजपा ने दी JDU, RJD को मुस्लिम सियासत पर चुनौती

उधर जरीन ने मुंबई के एक टीवी चैनल से बात करते हुए अपने संघर्ष की कहानी बताई है। उसने बताया कि आमतौर से उसके कॉलेज के छात्र 12 वीं के बाद ही सीए ले लेते हैं, लेकिन उसने ग्रेजुएशन करने के बाद लिया। उसने कहा कि उसे खुद पर विश्वास था। घर में हर तरह की सुविधा न हो, तब भी मेहनत के जरिये सफलता पाई जा सकती है।

तीन मामलों में खास है प्रियंका गांधी का सहारनपुर दौरा

मालूम हो कि इंस्टीच्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट ऑफ इंडिया (आईसीएआई) ने दो दिन पहले सीए इंटरमीडिएट ओल्ड कोर्स, न्यू कोर्स और सीए फाउंडेशन का रिजल्ट जारी किया। सीए इंटरमीडिएट ओल्ड कोर्स में जरीन ने ऑल इंडिया रैंक वन हासिल की है। चेन्नई के अजीत शेनोय ने दूसरा स्थान हासिल किया है। केरल के सिद्धार्थ मेनन ने तीसरा स्थान पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*