कोहराम: एक्जाम सेंटर पर मुस्लिम लड़कियों का महिला अफसर ने किया धार्मिक उत्पीड़न

कोहराम: एक्जाम सेंटर पर मुस्लिम लड़कियों का महिला अफसर ने किया धार्मिक उत्पीड़न

जीडीआर स्कूल बलिया

बेगूसराय से कौनैन अली की रिपोर्ट

जी हां हम बात कर रहे हैं बेगूसराय के बलिया प्रखंड क्षेत्र के इंटरमीडिएट परीक्षा केंद्र  जीडीआर+2 विद्यालय, बड़ी बलिया की.जहां सोमवार के दिन प्रथम पाली में फिजिक्स की परीक्षा चल रही थी।उसी समय केंद्र पर प्रतिनियुक्ति पदाधिकारी बलिया के सीआई मैडम ने सैकड़ों की संख्या में मुस्लिम परीक्षार्थियों  के साथ भेदभाव कर मानशिक रूप से प्रताड़ित की।
सीआई की मानसिक प्रताड़ना के कारण मुस्लिम छात्राएं परीक्षा हॉल में नर्वस हो गयीं और इसकारण  परीक्षा में बेहतर नहीं कर सकीं।
इधर छात्रओं के अभिभावकों में प्रियंका कुमार के इस आचरण पर भारी रोष है. अनेक अभिभावकों ने उनके खिलाफ आला अधिकारियों से शिकायत करने का फैसला लिया है. एक अभिभावक ने कहा कि परीक्षायें समाप्त होने पर वह सीआई प्रयंका कुमार द्वारा किये गये धर्म के नाम पर उत्पीड़न की शिकायत करेंगे.

पत्रकारों पर बघारी अफसरशाही

जब इस खबर की भनक मीडिया को लगी तो कुछ मीडिया कर्मी  जब इस मामले पर सीआई से प्रश्न किया तो सीआई कुछ भी बताने से इनकार कर दिया और अफसरशाही का पावर दिखाते हुए मीडिया कर्मी को परीक्षा हॉल में प्रताड़ित हो रही छात्राओं से मिलने नहीं दिया।
परीक्षा समाप्ति पर जब कुछ परीक्षार्थियों से बात की गयी तो उन्होंने नाम गुप्त रखने की शर्त पर बताया कि कुछ मुस्लिम लड़कियां जो नकाब में गयीं थी उन्होने अपना नकाब पहले ही उतार दिया था.  लेकिन कुछ लड़कियों के सरों पर दोपट्टा देख कर वह भड़क गयीं. उन्होंने डांट फटकार शुरू कर दी और कहा कि सर पर दोपट्टा रखने की क्या जरूरत है.
—————————————————-
—————————————————————–
जबकि सरों पर दोपट्टा रखना परीक्षा नियमों का उल्लंघन नहीं है. लेकिन सीआई मैडम यहीं नहीं रुकीं उन्होंने सीएए, एनपीआर औऱ एनआरसी जैसे संवेदनशील मुद्दे को परीक्षा हाल में उठाना शुरू कर दिया. मैडम ने इसी तरह की अनेक बातें कहीं जिससे मुस्लिम लड़कियां नर्वस हो गयीं और कई छात्राओं क परीक्षा ठीक से नहीं हो सकी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*