लीजिए, आ गया यूपी का सर्वे, बाबा तो गयो

लीजिए, आ गया यूपी का सर्वे, बाबा तो गयो

देश की नजर यूपी विधानसभा चुनाव पर है। आज गोदी मीडिया ने अपने सर्वे में लिखा-अखिलेश-योगी में बराबर की टक्कर। जब गोदी मीडिया बराबर बोले, तो अर्थ समझ लीजिए।

आप गूगल करके यूपी के किसी बड़े अखबार को देख लीजिए। रोज पहले-दूसरे पन्ने पर योगी-मोदी का प्रचार रहता है। टीवी पर भी दिन भर भाजपा के विज्ञापन आते रहते हैं। विज्ञापन के जरिये करोड़ों रुपए मीडिया घरानों को दिए जा रहे हैं। इसीलिए मीडिया में भाजपा नेता छाये रहते हैं। इसके बावजूद अगर मीडिया का सर्वे यह कहे कि सपा और भाजपा में बराबर की टक्कर है, तो इसका अर्थ आसानी से समझा जा सकता है।

पूर्व आएएस सर्य प्रताप सिंह ने ट्वीट किया-अगर चम्मच चैनल का सर्वे बराबर की टक्कर बता रहा है, तो समझो-बाबा तो गयो। टीवी ने सर्वे के दूसरे भाग में कहा कि विकास के मामले पर योगी को बढ़त है। इस पर सूर्य प्रताप सिंह ने कहा- विकास पर झूठ बोलना उसकी मजबूरी है। टीवी टैनल एबीपी ने अपना नया सर्वें जारी किया है। इसमें उसने माना है कि अखिलेश और योगी में बराबर की टक्कर है। एबीपी ने विकास के पैमाने पर योगी को बढ़त दी है। टीवी ने सर्वे में यह भी बताया है कि तीन कृषि कानून वापस लेने के बाद भी भाजपा के प्रति किसानों का झुकाव नहीं बना है। यह भी माना है कि पश्चिमी यूपी में सपा को बढ़त है।

टीवी के इस सरवे के बाद लोग कह रहे हैं कि प. यूपी में तो जाट-मुस्लिम-गुजर एकता के सामने भाजपा का सफाया होगा। पूर्वी यूपी में सपा के साथ अति पिछड़े समुदाय के जुड़ने से वह बढ़त पर है। ऐसा कोई क्षेत्र नहीं दिखता , जहां भाजपा मजबूत हो।

मलखान सिंह ने लिखा-पूर्वांचल मे बीजेपी की हालत खराब है। ब्राह्मण भी इनका साथ छोड़ चुके हैं। कुछ अन्य अगडी जातियाँ भी इनके खिलाफ है फिर भी इसमें बीजेपी को बराबर दिखाया जा रहा है ऐसा गलत है। बीजेपी के लगभग पांच प्रतिशत वोट तो कांग्रेस ही काट रही है। ये मेरा दावा है।

अगड़े-पिछड़े सबकी परेशानी पर बोले लालू, कहा धिक्कार है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*