लोस अध्यक्ष पटना पहुंचे, सत्तापक्ष ने रोया रोना, तेजस्वी हमलावर

लोस अध्यक्ष पटना पहुंचे, सत्तापक्ष ने रोया रोना, तेजस्वी हमलावर

बिहार विधानसभा के प्रबोधन कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए आज लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला पटना पहुंचे। कार्यक्रम में पक्ष-विपक्ष के अलग-अलग राग।

आज पटना में बिहार विधानसभा में प्रबोधन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला पहुंचे। उन्होंने बिहार की गौरवशाली परंपरा का उल्लेख करते हुए पक्ष-विपक्ष में संवाद बनाए रखने पर जोर दिया। वहीं कार्यक्रम में सत्तारूढ़ दलों और विपक्ष ने अलग-अलग मुद्दों पर जोर दिया।

राज्य के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा बिहार में शराबबंदी कानून पर प्रतिकूल टिप्पणी की बात याद दिलाते हुए लोकसभा अध्यक्ष से निवेदन किया कि वे सदन की गरिमा बचाने के लिए पहल करें। मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार के शराबबंदी कानून पर तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा था कि कानून बनाने से पहले इसके परिणामों के बारे में विचार ही नहीं किया गया। कोर्ट में लंबित मामले बढ़ते जा रहे हैं।

उधर, बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने एक बेहद जरूरी सवाल उठाया, जो तात्कालिक तौर पर यूपी चुनाव और समग्र तौर पर सभी चुनावों से ताल्लुक रखता है। उन्होंने जोर देकर कहा कि चुनावों में विभिन्न समुदायों के बीच नफरत फैलानेवाले भाषण दिए जा रहे हैं। इससे लोकतंत्र कमजोर हो रहा है, तथा जनता के वास्तविक मुद्दे पृष्ठभूमि में चले जाते हैं।

वैसे पूरे कार्यक्रम में बिहार की महान परंपरा, एक दूसरे से सीखें, वरिष्ठ सदस्यों के अनुभवों का लाभ उठाएं, सदन में गरिमा बनाए रखें आदि बातें बार-बार कहीं गईं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी बिहार की परंपरा और विधानसभा में पहले के प्रबोधन कार्यक्रम का विस्तार से उल्लेख किया।

बिहार विधानसभा के सदस्यों को पुलिस ने लात-घूंसों से पीटा था, आजतक वह दाग मिटा नहीं है। जब विधानसभा सदस्य ही बेखौफ होकर सत्ता की आलोचना नहीं कर सकते, तो बाकी लोगों की बात क्या की जाए।

‘महंगाई डायन पर मोदी बजा रहे करताल’, RJD ने भी किया शेयर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*