महागठबंधन में सब ठीक – मान गए दीपंकर, सूचि लेंगे वापस, लड़ेंगे साथ

महागठबंधन में सब ठीक – मान गए दीपंकर, सूचि लेंगे वापस, लड़ेंगे साथ

महागठबंधन में राष्ट्रीय जनता दल और भाकपा माले में सीट बटवारे पर बात बन गयी है. भाकपा माले ने 30 सीटों की अलग सूचि जारी की थी अब उसे वापस लेकर महागठबंधन के बैनर तले ही दोनों पार्टियां चुनाव लड़ेंगी। वहीँ महागठबंधन के प्रमुख दल कांग्रेस के साथ सीट शेयरिंग पर सहमति बनने की खबर है.

बता दें कि बिहार चुनावों की तारीखों का ऐलान होने के बाद पहले चरण का नामांकन शुरू हो चूका है. हाल ही में महागठबंधन में सीट शेयरिंग में देरी का हवाला देकर CPI-ML ने महागठबंधन से अलग होने की स्थति में 30 सीटों की सूचि जारी कर दी थी. जिससे मीडिया के कुछ हलकों में खबर चला दी गयी कि भाकपा माले महागठबंधन से अलग हो गयी है.

भाजपा ने दलितों का जीवन पशुओं से भी बदतर बनाया : लालू यादव

राजद और भाकपा माले के बीच सीट बटवारे को लेकर सहमति डिनर डिप्लोमेंसी के जरिए हुआ। कल रात पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पर तेजस्वी यादव, कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा, भाकपा माले के जनरल सेक्रेटरी दीपंकर और विकासशील इंसान पार्टी (VIP) के मुकेश सहनी ने भी भाग लिया। बैठक में तेजस्वी यादव ने महागठबंधन के दलों के नेताओं के साथ कई घंटे तक चर्चा की. इस बैठक में में यह तय हो गया कि भाकपा माले महागठबंधन के साथ ही चुनाव लड़ेगी। जो सूत्रों की माने तो 20 सीटों की मांग कर रही भाकपा माले को 15 सीट देने पर सहमति बनी है. वही महागठबंधन के एक और घटक दल कांग्रेस के साथ भी सीट बटवारे पर सहमति बन गयी और अगले एक दो दिन में घोषणा हो जाएगी।

योगी की पुलिस ने राहुल-प्रियंका को धक्कामुक्की कर लिया हिरासत में

न्यूज़ रिपोर्ट्स के अनुसार राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) ने कांग्रेस को 60 सीटें देने की बात कही है. जिससे राजद और कांग्रेस के बीच बात बनती दिख रही है. सूत्रों का कहना है कि महागठबंधन में सीट बटवारे पर कोई विवाद नहीं है हलाकि सीटों पर किस दल को चुनाव लड़ाया जाये इस पर चर्चा चल रही है और विवाद जैसा कुछ नहीं है.

2015 बिहार विधान सभा चुनाव में माले का वोट शेयर 3 % था. बताया जा रहा है कि माले अपने जनाधार वाली सीटें चिन्हित कर राजद को बताएगी जिसके बाद उन सीटों को माले को देने पर विचार होगा। माले के जनरल सेक्रेटरी दीपंकर भट्टाचार्य से मिलने आरजेडी सांसद मनोज झा और भोला यादव सुबह में पार्टी दफ्तर पहुंचे थे। माले के साथ बात नहीं बनने पर देर रात राबड़ी आवास पर दीपांकर को डिनर पर बुलाया गया जहाँ सीट बटवारे पर बात बन गयी है.

बताया जा रहा है कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) ने कांग्रेस को 60 सीटें देने की बात कही है. जिससे राजद और कांग्रेस के बीच बात बनती दिख रही है. सूत्रों का कहना है कि महागठबंधन में सीट बटवारे पर कोई विवाद नहीं है हलाकि सीटों पर किस दल को चुनाव लड़ाया जाये इस पर चर्चा चल रही है और विवाद जैसा कुछ नहीं है. दोनों पार्टियां जानती है कि महागठबंधन के टूटने की स्थिति में एनडीए को फायदा होगा इसलिए इस परिस्थिति से बचने की कवायद जारी है.

बता दें कि 2015 में बिहार चुनाव के परिणामस्वरूप कांग्रेस के 27 और माले के 3 विधायक है. हालांकि 2015 के चुनाव मेंं माले अकेले मैदान में उतरी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*