शत्रु का कांग्रेस में शामिल होने में देरी, औरंगाबाद, दरभंगा पर विवाद अब भी हैं ठबंधन की गांठ सुलझाने में बाधा

शत्रु का कांग्रेस में शामिल होने में देरी, औरंगाबाद, दरभंगा पर विवाद अब भी हैं ठबंधन की गांठ सुलझाने में बाधा

भाजपा को कई सालों से पानी पिलाने वाले शत्रुध्न सिन्हा के कांग्रेस में शामिल होने में विलंब, दरभंगा में अली अशरफ के बागी तेवर और औरंगाबाद व सुपौल पर महागठबंधन में अब भी गांठ का न सुलझ पाना सभी नेताओं के लिए परेशानी का कारण बना हुआ है.

नौकरशाही मीडिया

खबर थी कि आज शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस में शामिल होने वाले थे. लेकिन इसके लिए प्रस्ताित प्रेस कांफ्रेंस टाल दी गयी. उधर दरभंगा में महागठबंधन पर खीचतान जारी है. तो दूसरी तरफ औरंगबाद और सुपौल का मामला भी नहीं सुलझ पा रहा है.

दिल्ली में कांग्रेस के बिहारी नेताओं की बैठक चल रही है. राहुल भी इसी धुन में माथापच्ची कर रहे हैं. इधर पटना में तेजस्वी यादव खुद अपनी पार्टी के प्रत्याशियों के दबाव में हैं.

  • गुस्से में फातमी

हालांकि इससे पहले राजद की तरफ से, इस उम्मीद पर पत्रकारों को सूचना दी गयी थी कि शाम छह बजे महागठबंधन के नेता संयुक्त रूप से प्रेस कांफ्रेंस करके सीटों के तालमेल का अंतिम फैसला करेंगे. इस प्रेंस कांफ्रेंस पर तब तक संशय बना रहेगा जब तक कि महागठबंधन की सभी पार्टियां सीट बंटवारे को अंतिम रूप ना दे दें.

उधर दिल्ली से खबर है कि बिहार कांग्रेस के नेता अखिलेश सिंह, मदन मोहन झा, सदानंद सिंह वहां कांग्रेस की मीटिंग में हैं. कुछ कांग्रेसी फिर से राजद पर दबाव बना रहे हैं कि उसे गठबंधन से अलग हो कर चुनाव लड़ना चाहिए.

हालांकि कुछ सूत्रों का कहना है कि आज शाम तक गठबंधन की गांठ को सुलझा लिया जायेगा.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*