मैदान में कूदे मोदी व अखिलेश, गरमा गई चुनावी सियासत

मैदान में कूदे मोदी व अखिलेश, गरमा गई चुनावी सियासत

अगले साल होनेवाले यूपी विधानसभा चुनाव के संघर्ष का बिगुल आज ही बज गया। बनारस में पीएम मोदी थे, तो पूरे यूपी में सपा ने किया प्रदर्शन।

यूपी विधानसभा चुनाव अगले साल होना है, लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण पर गौर करें, तो उन्होंने पूर्व की अखिलेश यादव सरकार पर जमकर निशाने साधे। सपा भी तैयार थी। आज राज्य के विभिन्न जिलों में लाल टोपी पहने कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे और केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारे लगाए। वे महंगाई, पंचायत चुनाव में धांधली सहित 16 सूत्री मांगों पर प्रदर्शन कर रहे थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने आज बनारस में 15 सौ करोड़ रुपए की परियोजनाओं का शिलान्यास अथवा लोकार्पण किया। यह कार्यक्रम सरकारी था, पर प्रधानमंत्री ने जमकर पिछली अखिलेश सरकार पर निशाने साधे। उन्होंने कहा कि पहले बहू-बोटियों पर अत्याचार होता था। माफिया का राज था। अब योगी सरकार में महिलाएं सुरक्षित हैं।

प्रधानमंत्री ने कोरोना काल में योगी सरकार के प्रबंधन की सराहना की। उनका भाषण विकास, कोरोना में बेहतर प्रबंधन और पिछली सरकारों की कमी बताने पर केंद्रित था।

उधर, आज सखनऊ सहित राज्य के लगभग हर जिले में सपा कार्यकर्ता लाल टोपी पहने सड़कों पर उतरे। वे महंगाई के खिलाफ नारे लगा रहे थे। कई कार्यकर्ता रसोई गैस सिलिंडर लेकर चल रहे थे। सपा ने पंचायत चुनाव में धांधली, महिलाओं के साथ अपमानजनक व्यवहार सहित 16 सूत्री मांगों के लिए प्रदर्शन किया। लखनऊ में सपा कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर दी।

महंगाई के खिलाफ मुख्यमंत्री के गृहजिला पहुंचा IYC का कारवां

समाजवादी पार्टी के नेता ब्रजेश यादव ने ट्वीट किया- आज मोदी भाषण दे रहे थें कि यूपी मे गुंडागर्दी खत्म हो गई है, कितने झूठे हैं भाजपा वाले। मोदीजी यूपी का कोई ऐसा जिला नही जहां भाजपाइयों की गुंडागर्दी और आतंक से बचा हो, बची खुची कसर योगी अपने पुलिस प्रशासन से पूरा कर देते। सपाइयों पर जो उत्पीड़न हो रहे उसे याद रखना जनता सब देख रही।

JMM के एक ही सवाल से BJP सांसदों की बोलती बंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*