‘लोग नहीं चाहते कि जिस जंगलराज के चलते तेजस्वी 9वीं से आगे नहीं पढ़ सके वह राज फिर लौटे’

‘लोग नहीं चाहते कि जिस जंगलराज के चलते तेजस्वी 9वीं से आगे नहीं पढ़ सके वह राज फिर लौटे’

‘लोग नहीं चाहते कि जिस जंगलराज के चलते तेजस्वी 9वीं से आगे नहीं पढ़ सके वह राज फिर लौटे’

जदयू ने अपनी सरकार के पंद्रह साल बनाम राजद के पंद्रह साल के शासन को चुनावी मुद्दा बनाने को ठान लिया है.JDU के वरिष्ठ नेता मेजर इकबाल हैदर ( Equbal Major) कहा है कि राजद के लालटेनयुग ने न सिर्फ राज्य को अंधकार में पहुंचा दिया बल्कि भय, हिंसा, फिरौती और नरसंहार उसकी पहचान थी.

उन्होंने कहा कि इसके बरअक्स नीतीश सरकार ने विकास की गंगा बहा दी और राज्य में अमन बहाल किया. उन्होंने एक प्रेस बयान जारी कर कहा कि 2005 तक लोग सड़क में गड्ढा और गड्ढ़े में सड़क तलाशते हैं जबिक माननीय नीतीश कुमार के शासनकाल में चमचमाती सड़कों का ऐसा जाल बिछा कि बिहार के किसी भी कोने से पांच घंटे में पटना पहुंचने का सपना पूरा कर दिखाया.

भागलपुर दंगों की कोख से जन्मी राजद सरकार ने अपने समय में कानून व्यवस्था को नरसंहार व जंगल राज में बदल दिया जबकि हमारी सरकार ने भागलपुर के दंगाइयों को सजा दिलवाई. जबकि लालू राज में भागलपुर दंगाइयों को इसलिए संरक्षण दिया गया कि वे लोग राजद के समर्थक वोटर बन गये.

इकबाल मेजर ने कहा कि भागलपुर दंगों की कोख से जन्मी राजद सरकार ने अपने समय में कानून व्यवस्था को नरसंहार व जंगल राज में बदल दिया जबकि हमारी सरकार ने भागलपुर के दंगाइयों को सजा दिलवाई. जबकि लालू राज में भागलपुर दंगाइयों को इसलिए संरक्षण दिया गया कि वे लोग राजद के समर्थक वोटर बन गये.

नवदा में वक्फ भूमि लुटेरे को शह दे रही है पुलिस,अल्पसंख्यकों में भारी आक्रोश

इकबाल मेजर ने कहा कि 2005 तक बिहार के सैकड़ों ऐसे गांव थे जहां के लोगों ने बिजली के बल्ब नहीं देखे थे लेकिन हमारी सरकार ने के प्रथम दस वर्ष में गांव-गांव में बिजली न सिर्फ पहुंच गयी बल्कि गांव के गांव रौशनी से जगमगा गये.

इकबाल मेजर ने कहा कि जनता दल युनाइटेड को अपने विकास कार्यों पर गर्व है क्योंकि हमने राज्य को अंधकार, कुशासन, नरसंहार के दौर को समाप्त कर विकास और सुशासन की व्यवस्था लागू की है. उन्होंने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को नसीहत देते हुए कहा कि अगर लालू -राबड़ी की सरकार ने अमन और शिक्षा का माहौल बनाया होता तो वह मात्र नवीं तक शिक्षा प्राप्त करने के बजाये उच्च शिक्षा से लैस होते. मेजर ने कहा कि तेजस्वी यादव को समझना चाहिए कि लालू के जंगलराज के कारण जब तेजस्वी यादव जैसे साधन सम्पन्न लोग अर्धशिक्षित रह गये तो उस समय की उनकी पीढ़ी के आम लोगों का क्या हाल हुआ होगा.

इकबाल मेजर ने बिहार की जनता से अपील की कि वे तेजस्वी से सवाल करें कि आखिर जिनके माता-पिता दोनों मुख्यमंत्री रह चुके हों उनका बेटा मात्र नौवीं तक की शिक्षा क्यों प्राप्त कर सका? उन्होंने बिहार के युवाओं से अपील की कि राजद के अंधकारयुग को से सबक लें और माननीय नीतीश जी को आगामी चुनाव में अपना मजबूत समर्थन दें ताकि बिहार के विकास की धारा बहती रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*