मांझी गरजे- Pegasus जांच हो, आधा एनडीए राजद के साथ

मांझी भी गरजे- Pegasus की जांच हो, अकेली पड़ी भजपा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बाद पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने भी Pegasus जांच की मांग कर दी है। अब आधा एनडीए में राजद के साथ।

पेगासस जासूसी को मनगढ़ंत बतानेवाली भाजपा बिहार एनडीए में अकेली पड़ गई है। कल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आतंकवादियों के लिए बनाए गए पेगासस जासूसी स्पाइवेयर से देश के नेताओं, पत्रकारों की जासूसी करने को गंभीर मामला बताते हुए जांच की मांग की थी और आज बिहार एनडीए के तीसरे प्रमुख साझीदार हम के प्रमुख पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने भी जांच की मांग कर दी।

चौथे पार्टनर वीआईपी ने अभी तक कुछ नहीं कहा है। हालांकि मुकेश सहनी यूपी में हुए अपमान को अबतक भूले नहीं हैं। सहनी ने अबतक पेगासस मामले को भाजपा की तरह मनगढ़ंत कह कर खारिज भी नहीं किया है। इस तरह आज की तारीख में भाजपा अकेली पड़ गई है और आधा एनडीए यूपीए (राजद-कांग्रेस) के साथ खड़ा हो गया है।

आज पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम ने ट्वीट किया-अगर विपक्ष किसी मामले की जांच की मांग कर लगातार संसद का काम प्रभावित कर रहा है तो यह गंभीर मामला है। मुझे लगता है वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखकर पेगासस जासूसी मामले की जांच करा लेनी चाहिए,जिससे देश को पता चल पाए कि कौन किन लोगों की जासूसी करवा रहा है।

JMM में जश्न, सोरेन ने खजाना खोला, भाजपा ने की खानापूर्ति

भाजपा में चुप्पी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कल के बयान के बाद किसी भाजपा नेता ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। अब जीतनराम मांझी के बोलने के बाद भी भाजपा में चुप्पी है। पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने तोड़ी देर पहले आई-बैंक के बारे में ट्वीट किया है। जब बिहार की राजनीति में पेगासस जासूसी मामला गर्मा गया है, तब वे आई बैंक का आंकड़ा दे रहे हैं। वे बिहार में आए राजनीतिक भूचाल से अनभिज्ञ तो नहीं ही होंगे।

दलित बच्ची की गैंगरेप के बाद हत्या, बिना बताए शव जलाया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*