जन्मदिन पर मुस्लिमों के पक्ष में कूदीं Mayawati, कहा सवर्णों की तरह लागू हो Muslim Reservation

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष Mayawati ने 63वां जन्मदिन पर Muslim Reservation की जोरदार वकालत की है. उन्होंने कहा है कि सवर्णों की तरह मुसलमानों को भी आर्थिक आधार पर आरक्षण दिया जाना चाहिए.Mayawati ने कहा कि आजादी के वक्त 33 प्रतिशत Muslims नौकरियों में थे लेकिन अब मात्र उनका प्रतिनिधित्व 2-3 प्रतिशत रह गयी है. मायावती ने कहा कि सवर्ण गरीबों को जिस आधार पर आरक्षण दिया गया है उसी तर्ज पर Muslims को भी Reservation दिया जाये. अपने जन्मदिन के मौके पर उन्होंने लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और केंद्र सरकार तथा कांग्रेस पर निशाना साधा।

Mayawati ने कहा कि आजादी के वक्त 33 प्रतिशत Muslims नौकरियों में थे लेकिन अब मात्र उनका प्रतिनिधित्व 2-3 प्रतिशत रह गयी है

मायावती ने मुस्लिम आरक्षणका बात कही है, उन्होंने कहा कि आर्थिक आधार पर मुसलमानों को आरक्षण दिया जाना चाहिए।मायावती ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के लोग देवी देवताओं की जात बता रहे हैं और मुसलमानों की जुम्मे की नमाज पर विवाद पैदा कर रहे हैं। मायावती ने कहा कि लोकसभा चुनाव नजदीक होने की वजह से भाजपा ने झूठे वादे करना शुरू कर दिये हैं।
मायावती ने कहा कि अगर उनके कार्यकर्ता गठबंधन के लोगों को जीतवाते हैं तो यह उनके लिए जन्मदिन का सबसे बड़ा तोहफा होगा। उन्होंने कहा कि उनके जन्मदिन पर सभी कार्यकर्ता अपनी हैसियत के हिसाब से चंदा देते हैं और वे सभी कार्यकर्ताओं का आभार प्रकट करती हैं।
सपा-बसपा गठबंधन होने के बाद मायावती ने कहा कि अब दोनों दलों के कार्यकर्ताओं को आपसी टकराव भूल कर काम करना होगा.
गौरतलब है कि मायावती ने खुल कर मुसलमानों के आरक्षण की बात कह कर राज्य के 20 प्रतिशत आबादी वाले समाज को अपनी तरफ आकर्षित करने की कोशिश की है. हालांकि सपा मुसलमानों के मामले में सतर्कता भरा रवैया रखता रहा है. अखिलेश यादव इस बात से डरते हैं कि अगर वह मुसलमानों की समस्याओं को उठायेंगे तो भाजपा उन पर मुस्लिम तुष्टिकरण का इल्जाम लगायेगी.
मायवती ने मुसलमानों के आरक्षण की बात कह दी है ऐसे में देखना है कि कांग्रेस और अन्य दलों की इस पर क्या प्रतिक्रिया रहती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*