MDH मसाले वाला दादा धर्म पाल नहीं रहे

MDH मसाले वाला दादा धर्म पाल नहीं रहे

‘एमडीएच मसाले सच सच’ विज्ञानप से मशहूर हुए महाशय धर्म गुलाटी का निधन हो गया है. वह 98 वर्ष के थे.

खबरों के अनुसार गुरुवार सुबह उन्हें दिल का दौरा पड़ा था जिससे उनकी मौत हो गई. बीते तीन सप्ताह से वो अस्पताल में भर्ती थे. भारत में एमडीएच(MDH Spices) को बड़ी पहचान दिलाने वाले धर्मपाल ने अपने कारोबार में ईमानदारी और लगन को अपना मूलमंत्र माना था. वह शुद्धता को सर्वपरि रखते थे. उनका मानना था कि कारोबारी में ईमानदारी हो तो दुनिया आपके उत्पाद को स्वीकार करती है.


एमडीएच (MDH) मसाले कंपनी का नाम उनके पिता के काराबोर पर रखा गया था. उनके पिता ‘महशियान दी हट्टी’ के नाम से मसालों का कारोबार करते थे.

भारत सरकार ने भी उनके कारोबार के महत्व को समझा था और व्यापार और वाणिज्य के लिए साल 2019 में भारत के दूसरे उच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण से भी नवाज़ा गया था.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उनकी मौत पर दुख व्यक्त किया और कहा “उन्होंने छोटे व्यवसाय से शुरू करने बावजूद उन्होंने अपनी एक अलग पहचान बनाई.”भारत के प्रतिष्ठित कारोबारियों में से एक महाशय धर्मपालजी के निधन से मुझे दुःख की अनुभूति हुई है। छोटे व्यवसाय से शुरू करने बावजूद उन्होंने अपनी एक पहचान बनाई। वे सामाजिक कार्यों में काफ़ी सक्रिय थे और अंतिम समय तक सक्रिय रहे। मैं उनके परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*